राजधानी शिमला के सभी क्षेत्रों में शोपीस बने ट्रैफिक सिगनल, शहर में अक्सर लगा रहता है जाम

0
293
Shimla Traffic signal Lights

strong>शिमला- राजधानी में सरकारी तंत्र की लापरवाही का खामियाजा शहर की सड़कों पर आम जनता को भुगतना पड़ रहा है। अधिकाश चौराहों व तिराहों पर लगे ट्रैफिक सिगनल खराब होने के कारण यातायात व्यवस्था पटरी से उतर गई है। इससे सड़कों पर हादसों का खतरा मंडराता रहता है। साथ ही चौराहों पर ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की गैर मौजूदगी समस्या को बढ़ा रही है।

शिमला के ढली टनल के पास सबसे ज्यादा यातायात संचालित होता है। यहा पर ट्रैफिक पुलिस की तैनाती भी रहती है लेकिन लाइट खराब होने के कारण जाम खुलवाने पुलिस कर्मी निर्धारित स्थान से आगे पीछे चले जाते हैं। ऐसे में टनल के दोनों छोर से गाड़ियां टनल में प्रवेश कर जाती है और जाम की स्थिति और भी विकराल हो जाती है। कमोवेश राजधानी शिमला के सभी क्षेत्रों में स्थिति ऐसी ही बनी हुई है। कहीं भी चौराहों पर ट्रैफिक सिगनल काम नहीं कर रहे हैं।

ठली चौक बेहाल

शिमला का ढली चौक जाम से बेहाल है। इस मार्ग चौक पर ट्रैफिक सिग्नल खराब होने की वजह से लोगों को जाम से जूझना पड़ता है। यातायात नियंत्रित करने के लिए चौराहों पर ट्रैफिक पुलिस का ड्यूटी प्वाइंट निर्धारित है लेकिन शाम ढलते ही पुलिस कर्मी यहां से नदारद रहते हैं और यहां पर अक्सर जाम लगा रहता है।

खलीनी में भी सिगनल खराब

खलीनी चौक पर ट्रैफिक सिग्नल लंबे समय से खराब है। ट्रैफिक सिग्नल के अभाव में अक्सर तेज रफ्तार वाहन यहा आपस में भिड़ जाते हैं, या फिर घंटों जाम लगा रहता है। खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है।

ठीक होंगे ट्रैफिक सिगनल

राजधानी में खराब पड़े ट्रैफिक सिगनल को ठीक करवाया जा रहा है। सभी ट्रैफिक कर्मी तैनात हैं व ट्रैफिक को सुचारू रूप से चलाया जा रहा है।

डीडब्ल्यू नेगी, पुलिस अधीक्षक शिमला

Image: Himachal Watcher

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS