शॉट सर्किट से लगी विकासनगर के निजी घर में आग, करीब 10 लाख रुपये की संपत्ति जल कर राख

0
540
trilok-chauhan-shimla-fire-in-house-1050x525

जैसे बगीचे में पानी दे रहे था अग्निश्मन दल,घर तक पहुंच नहीं पाई अग्निशमन विभाग की गाड़ियां,नहीं चल पा रहे थे आग बुझाने के उपकरण,तंग गलियों और सटे घरों तक विभाग की गाड़ियां नहीं पहुंच पा रही हैं

शिमला- कुसुम्पटी से सटे विकासनगर क्षेत्र में बुधवार दोपहर करीब तीन बजे एसबीआई के नजदीक लोक सेवा आयोग के उप सचिव त्रिलोक के मकान के टॉप फ्लोर में अचानक आग भड़क गई। आग के एकाएक तेज होने से हड़कंप मच गया। आग इतनी तेज थी कि इसे काबू करने में फायर ब्रिगेड की चार गाड़ियों को बुलाना पड़ा। हादसे में करीब 10 लाख रुपये की संपत्ति के नुकसान का अनुमान है।

fire-shimla

आग लगने का कारण शॉट सर्किट बताया जा रहा है। मकान में अधिकांश लकड़ी का इस्तेमाल हुआ है। इस कारण आग काफी तेजी से भड़की। डायनिंग रूम, सौफा सैट, प्लाई बोर्ड व अन्य सामान जलकर राख हो गया। घर पर बेल्डिंग का काम चल रहा था। इस दौरान शॉट सर्किट हुआ।

chauhan-house-vikasnagar-near-sanjay-cottage

फायर बिग्रेड की सभी मॉक ड्रिल बुधवार को विकासनगर अग्निकांड के आगे फेल हो गई। अग्निश्मन विभाग के कर्मचारी घरेलू पानी की पाइप के सहारे आग पर काबू पाने में जुटे हुए थे। अग्निशमन विभाग के दल को ऐसा करते देख ऐसा लग रहा था कि कहीं वे बगीचे में पानी दे रहे हों।

अग्निशमन विभाग की गाड़ियां घर तक पहुंच ही नहीं पाई। अग्निश्मन विभाग के आग बुझाने के उपकरण थे, वे भी चल नहीं पा रहे थे। अगर स्थानीय लोगों ने एकजुटता दिखाते हुए आग को बुझाने का प्रयास न किया होता तो शायद कई घरों को आग अपनी चपेट में ले लेती।

trilok-chauhan-shimla-vikasnagar-sanjay-verma

अग्निश्मन विभाग की लापरवाही और आधुनिक उपकरणों के अभाव के कारण लाखों रुपये का नुकसान हुआ। अगर विभाग की गाड़ियों की पाइप घर तक पहुंच जाती तो शायद लाखों का नुकसान नहीं होता। अग्निश्मन विभाग अग्निश्मन सप्माह मना रहा है। शहर के लोगों को विभाग जागरूक कर रहा है। साथ ही साथ अपने उपकरणों के संबंध में जानकारी दे रहा है मगर तंग गलियों और सटे घरों तक विभाग की गाड़ियां नहीं पहुंच पा रही हैं।

vikasnagar-fire

स्थानीय लोगों ने दिखाया दम

विकासनगर में जब आग्निकांड भयानक रूप में बदल गया तो स्थानीय युवकों व लोगों ने मिलकर आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू किया। किसी ने रसोई से पानी एकत्रित कर लाया तो किसी ने अपने घर की पानी की टंकी खाली कर डाली। कोई बाल्टी से पानी फेंकने लगा तो कोई कैनियों से। पड़ोसी भी आग को बुझाने में लगे थे। लोगों के घरों में पीने के लिए पानी नहीं बचा मगर आग को उन्होंने दो घंटे की मशक्कत के बाद बुझा डाला।

community-help-vikasnagar-trilok-chauhan (2)

विकासनगर में 10 मिनट बाद पहुचे अग्निशमन वाहन

विकासनगर में आग की सूचना मिलते ही दमकल विभाग के कर्मचारी गाड़ियों को लेकर मौके पर चले गए थे। इसके बावजूद विकासनगर में अवैध रूप से सड़कों पर खड़ी गाड़ियों के कारण अग्निशमन वाहन जाम में फंस गया। इस कारण दमकल विभाग की गाड़िया लगभग 10 मिनट बाद मौके पर पहुची।

vikasnagar-shimla-fire-3

इससे पहले यहां लगी आग

ये भी पढ़ें: शिमला के लोअर बाज़ार में लगी आग, 7 दुकानें जलकर खाक, 1 गंभीर रूप से घायल

शिमला में इससे पहले गत नौ जनवरी को लोअर बाजार में आग लगी थी। लोअर बाजार में तीन दुकानें जलकर राख हुई थीं व दो व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हुए थे। वहीं, न्यू शिमला में भी आग लगने से साहित्यकार सरोज विशिष्ट की मौत हुई थी। इसके अलावा पिछले साल माल रोड के समीप एजी ऑफिस में आग लगी थी जिसमें काफी नुकसान हुआ था।

ये भी पढ़ें: शिमला के ऐतिहासिक गोर्टन कैसल आग में समाया

trilok-chauhan-shimla-vikasnagar-sanjay-verma

vikasnagar-fire-chauhan-2

vikasnagar-shimla-fire-2

vikasnagar-fire-near-kali-temple

vikasnagar-fire-chauhan

fire-shimla-vikasnagar

fire-shimla2

fire-vikasnagar-shimla

shimla-fire

shimla-house-on-fire-vikasnagar

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS