शिमला की जुड़वां बहनों से बंधवा मजदूरी और यौन शोषण का मामला: 1 गिरफ्तार, 3 दिन के पुलिस रिमांड पर

0
682
shimla twin sister bonded labor

उक्त महिला ने शरीर की मालिश कराते समय एक बच्ची को इतनी जोर से लात मारी कि वह गंभीर रूप से घायल हो गई उसे पहले पांवटा साहिब और उसके बाद में देहरादून के अस्पताल में भर्ती करना पड़ा।

सिरमौर -सिरमौर जिले के पांवटा साहिब मैं शिमला जिले के दूरदराज के क्षेत्र कुपवी की दो नन्हीं बच्चियों को बंधुआ मजदूर बनाने और मारपीट करने के मामले में एक नया मोड़ ले लिया है ।एक बच्ची के इस बयान के बाद कि विजय भल्ला नाम का व्यक्ति उसके उसका यौन शोषण करता था पुलिस ने बाल यौन अपराध रोकथाम कानून की धारा 8 के तहत उसे गिरफ्तार कर लिया है। पावटा साहिब पुलिस ने उसे चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया। अदालत ने अभियुक्त को 3 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। उधर उसकी पत्नी फरार है।

दोनों बच्चियां अभी शिमला के इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हैं जिनमें से एक बयान देने की स्थिति में नहीं है।

विडियो

उल्लेखनीय है की 21 फरवरी को उमंग फाउंडेशन ने यह मामला मीडिया के माध्यम से उजागर किया था और उसके बाद ही पुलिस ने हरकत में आई। पहले पुलिस ने बच्चियों के साथ मारपीट और शारीरिक श्रम कराने के आरोप में केस दर्ज किया था। दोनों बच्चियां पौंटा साहिब मैं विजय भल्ला के घर व शोरूम में घरेलू काम करती थी। उनके पिता ने इस आश्वासन पर उन्हें वहां भेजा था कि बच्चियों को स्कूल में पढ़ाया जाएगा और हर प्रकार की सुविधा दी जाएगी। लेकिन बच्चियों का आरोप है की विजय भल्ला की पत्नी उनसे सुबह 5 बजे से रात 11 बजे तक काम कराती थी और पिटाई भी करती थी।

विडियो

उन्हें कभी भी स्कूल नहीं भेजा गया। बच्चियों ने वहां 11 महीने तक काम किया और इस दौरान उन्हें अपने माता-पिता से फोन पर बात नहीं करने दी गई। 16 फरवरी को उक्त महिला ने शरीर की मालिश कराते समय एक बच्ची को इतनी जोर से लात मारी कि वह गंभीर रूप से घायल हो गई उसे पहले पांवटा साहिब और उसके बाद में देहरादून के अस्पताल में भर्ती करना पड़ा।

विडियो

बच्चियों के पिता का एक रिश्तेदार शिमला में इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज अस्पताल की कैंटीन में काम करता है। उसने सूचना मिलने पर शिमला से एंबुलेंस भेज कर बच्चियों को देहरादून के अस्पताल से लॉकर इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया। उनमें से एक अभी मानसिक रूप से इतनी ज्यादा तनाव में है कि बयान नहीं दे सकती। दूसरी बच्ची ने जो बयान दिया उसके आधार पर विजय भल्ला को गिरफ्तार कर लिया गया।

इससे पूर्व 22 फरवरी को पावटा पुलिस ने बच्चियों के साथ मारपीट करने और शारीरिक श्रम कराने जैसे आरोपों में मुकदमा दर्ज किया था।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS