मौसा ने पानी के टैंक में डुबो कर ली थी 7 वर्षीय मासूम की जान

0
302
Nadaun

हमीरपुर- बेला गांव में पानी के टैंक में मिली 7 वर्षीय बालक की लाश के मामले में पुलिस ने छह दिन के भीतर आरोपी को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। प्राथमिक पाठशाला बाल नादौन में दूसरी कक्षा में पढ़ने वाले रोहित पुत्र उदय कुमार की हत्या के आरोपी उसके सगे मौसा मुकेश उर्फ नागेंद्र कुमार ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

पढ़ें: नादौन में वाटर टैंक से 7-वर्षीय बच्चे का शव मिलने से सनसनी, हत्या का अंदेशा

पुलिस को दिए बयान में मुकेश कुमार ने कहा है कि पिछले सोमवार को वह दवाई लेने के लिए मझीन से नादौन आया था। यहां आकर उसने पहले शराब पी। करीब तीन बजे जब पाठशाला में छुट्टी हुई, तो बीच रास्ते में वह रोहित को यह कहकर अपने साथ ले गया कि उसके पिता बुला रहे हैं। आरोपी मृतक रोहित को बेला गांव के उस घर में ले आया जहां वह अपने परिवार सहित डेढ़ साल पहले रहता था। यहां आरोपी ने रोहित को पानी के टैंक में हाथ-मुंह धोने के लिए कहा, जब राहित हाथ-मुंह धोने लगा तो आरोपी ने उसे पीछे से धक्का देकर पानी से भरे टैंक में गिरा दिया। इसके उपरांत मुकेश घटनास्थल से बस अड्डा नादौन की ओर आ गया, जहां अपने एक नेपाली दोस्त के साथ बैठकर और शराब पी। उसने बताया कि शाम साढ़े पांच बजे के करीब वापस मझीन चला गया, जहां उसका परिवार पिछले 18 वर्षों से रहता है।

boy-found-dead-in-water-tank-bela-village-nadaun-himachal-696x435
Photo: Jagran

आरोपी ने पुलिस को बताया कि सात माह पूर्व उदय ने उससे 15 हजार रुपए उधार लिए थे। बीमारी के बाद मेरी बेटी की मौत हो गई। इसके बाद जब पैसे मांगने के लिए वह पिछले दिनों उदय के घर पर गया, तो वहां उसकी पत्नी गाली-गलोज पर उतारू हो गई। इसके चलते उदय और मुकेश के बीच हाथापाई तक नौबत पहुंच गई। उदय ने पुलिस को बताया कि मुकेश ने उसे धमकी दी थी कि अब पैसे अपने हिसाब से वसूलेगा। इन दिनों मुकेश का बेटा भी गंभीर बीमारी से ग्रसित है। डीएसपी लालमन शर्मा, एसएचओ सतीश शर्मा ने बताया कि रविवार देर रात मुकेश को हिरासत में ले लिया है। मुकेश ने राहुल की हत्या करना कबूल कर लिया है। कोर्ट ने आरोपी को पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS