लड़की अगवा करने में नाकाम युवक ने मां को बाइक से टक्कर मार उत्तारा मौत के घाट

0
247

धर्मपुर- उपमंडल के एक गांव में एक नाबालिग लड़की को अगवा करने गए युवक ने लड़की की मां को अपनी बाइक से टक्कर मार दी जिससे उसकी मौत हो गई। इस घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गया। पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। आरोपी शांता कुमार पुत्र हंसराज निवासी देवराता की तलाश के लिए एक टीम का गठन किया गया है।

शांता कुमार अपनी दूर की रिश्तेदारी में एक नाबालिग लड़की से एकतरफा प्यार करता था। वह काफी समय से लड़की के परिजनों पर शादी के लिए दबाव बना रहा था। लड़की के परिजन इससे सहमत नहीं थे। वे आरोपी को पहले कई बार फटकार भी लगा चुके थे।

आरोपी वीरवार सुबह अपने एकतरफा प्यार को परवान चढ़ाने के लिए बाइक पर ब्रांग गांव आया। वहां आंगन में काम कर रही लड़की को जबरन पकड़ कर घसीटता हुआ सड़क तक ले गया। लड़की के शोर मचाने पर परिजन व ग्रामीण मौके पर एकत्रित हो गए और उन्होंने युवक को घेर लिया। इससे तैश में आकर युवक ने अपनी बाइक स्टार्ट की और लड़की की मां मीना देवी (42) को टक्कर मार दी। इससे लोगों में अफरा-तफरी मच गई। इससे पहले कि लोग कुछ समझ पाते आरोपी बाइक लेकर वहां से फरार हो गया।

घायल मीना को ग्रामीण नागरिक अस्पताल सरकाघाट ले गए। वहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे क्षेत्रीय अस्पताल हमीरपुर रैफर कर दिया। हमीरपुर ले जाते समय मीना ने रास्ते में दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव का नागरिक अस्पताल सरकाघाट में पोस्टमार्टम करवाया। डीएसपी मदन धीमान का कहना है कि शांता कुमार उर्फ मौनम के विरुद्ध गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है। आरोपी शीघ्र सलाखों के पीछे होगा।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS