राज्य पर्यटन विकास निगम की हिमाचल पर्यटन को बढ़ावा देने की पहल

0
449
himachal-tourism-shimla

himachal-tourism-shimla

“हिमाचल प्रदेश के प्राकृतिक सौंदर्य , कला, संस्कृति एवं आतिथ्य को सभी तक पंहुचाने तथा प्रदेश में और अधिक पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम ने अन्य राज्यों के पर्यटन विकास निगमों तथा प्रसिद्ध होटल श्रंृखलाओं के साथ आपसी सहयोग का निर्णय लिया है, इस कार्य के लिये विभिन्न निगमों के साथ समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किए जाएंगे और एक.दूसरे की परिसंपत्तियों का विक्रय भी किया जाएगा”

हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम के प्रबन्धक निदेशक सुभाशीष पांडा ने यह आज यहां यह जानकारी दी कि निगम ने एक दूसरे की पर्यटन से संबंधित गतिविधियों को प्रोत्साहित करने के लिए मध्य प्रदेश पर्यटन विकास निगम, गुजरात पर्यटन विकास निगम, पश्चिमी बंगाल पर्यटन विकास निगम, ओडि़शा पर्यटन विकास निगम, कर्नाटक तथा आंध्र प्रदेश पर्यटन विकास निगमों के साथ मामला उठाया है। इसके अतिरिक्त, ताज होटल गु्रप, रिजाॅर्ट्स एवं पैलेसिज़, ओबराय होटल एंड रिजाॅर्ट्स ग्रुप,आईटीसी लिमिटेड ;मौर्य शैर्टनद्ध होटल डिवीज़न को हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम ने राज्य में स्थित अपने होटलों में इन होटलों से आने वाले अतिथियों को सुविधाएं देने का प्रस्ताव भी दिया है।

सुभाशीष पांडा ने कहा कि विभिन्न राज्यों के पर्यटन विकास निगमों के साथ एक समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित करने से यह सभी निगम हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम के होटलों में आॅनलाईन बुकिंग कर पाएंगे तथा अतिथियों के लिए इंटरनेट के माध्यम से ही परिवहन सुविधाएं भी आरक्षित कर पाएंगे। यह सुविधा 15 प्रतिशत कमीशन के आधार पर होगी। इस प्रकार जो पर्यटक हिमाचल आकर राज्य पर्यटन विकास निगम के होटलों में ठहरना चाहते हैं और निगम की परिवहन सुविधाओं का लाभ उठाना चाहते हैंए को सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि हाल ही में दिल्ली व गोवा पर्यटन विकास निगम के साथ बुकिंग के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं।

उन्होंने इन विख्यात होटल श्रृंखलाओं के प्रबन्ध निदेशकों को पत्र लिखकर यह सूचित किया है कि वे आपसी लाभ के आधार पर हिमाचल प्रदेश पर्यटन निगम के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर कर सकते हैं। इस प्रकार उनके यहां ठहरने वाले आगंतुकों को हिमाचल प्रदेश के चिन्हित होटलों में ठहरने की सुविधा दी जाएगी। चायल पैलेस, कैसल नग्गर, कुल्लू ;धरोहर परिसम्पत्ति, होली.डे.होम शिमला एवं

पीटरहाॅफ शिमला, पाईनवुड, बड़ोग, लाॅगहट्स आॅरचर्ड हट्स, मनाली ;लग्ज़री काॅटे्ज, धौलाधार एवं भागसू होटल धर्मशाला, चिंतपूर्णी हाईट्स, मणिमहेश, डलहौजी, इरावती, चम्बा इत्यादि हिमाचल पर्यटन विकास निगम की सूची में शामिल वह विख्यात होटल हैं जहां पर्यटकों को बेहतर सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं।

पांडा ने विश्वास जताया कि निगम के यह प्रयास इसकी आय बढ़ाने में लाभप्रद सिद्ध होंगे। निगम राज्य के कुछ चिन्हित होटलों में धनाढ्य पर्यटकों की जरूरतें पूरी करने में समक्ष है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS