केलांग में बंधक बनाए गए 4 मजदूर बच्चों का खुलासा, दैननिय हालात में रख जबरन करवाते थे काम

0
268
labor-childrens-keylong
चित्र : पंजाब केसरी

लाहौल-स्पीति- हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति पुलिस ने बंधक बनाए गए आज 4 मजदूरों को छुड़वाया है। यह सभी बिहार के रहने वाले बताए जा रहे हैं। इस मामले में पुलिस ने 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके बाद अब इन अभियुक्तों को कुल्लू न्यायालय में पेश किया जाएगा।

पुलिस के मुताबिक उन्हें सूचना मिली थी कि यह बच्चे लाहौल-स्पीति के केलांग से मनाली जा रही बस में छुपकर भागने की कोशिश कर रहे थे इतने में मारुती वैन में सवार 2 लोगों ने बस को रोककर उसमें सवार 4 बच्चों को मारते पिटते वहां से फरार हो गए। पुलिस ने नंबर के आधार पर वैन का पता लगाया और इन बच्चों तक पहुंची।

जहां इन्हें दयनीय हालत में रखा गया था और जबरदस्ती काम करवाया जाता था। यह तीनों युवक बिहार में गया के बताए जा रहे हैं। हालांकि अभी तक पुलिस बच्चों की उम्र की जानकारी हासिल नहीं कर पाई है। लाहौल-स्पीति पुलिस अधीक्षक रमन मीना के मुताबिक मामले की गंभीरता को देखते हुए केलांग थाने में अभियोग संख्या 82/2016 दर्ज किया गया है जिसमें आईपीसी धारा 341, 342, 323, 367, 374, 506, 120 b तथा बंधुआ मजदूर प्रणाली (उत्सादन) अधिनियम 1976 के अनुसार 2 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है और बच्चों का मैडिकल करवाकर चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के सपुर्द किया गया है।

अभियुक्तों को अब कुल्लू न्यायालय में पेश किया जाना है। इनमें से 3 युवकों को तीन साल पहले यहां लाया गया था जबकि एक युवक को अभी 5 महीने पहले यहां लाया गया है। उनके अनुसार पिछले काफी समय से कई गिरोह सक्रिय है जो बाहरी राज्यों से गरीब बच्चों को खरीद कर यहां बेचकर इनसे काम करवाया जाता है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS