राहुल गांधी की गिरफ्तारी से हिमाचल कांग्रेस में फूटा गुस्सा, प्रधानमंत्री मोदी का फूँका पुतला

0
577
Himachal Congress Modi's Effigy Burnt
फोटो : अमित कँवर/ ट्रिब्यून

शिमला- अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी उपाध्यक्ष राहुल गांधी की गिरफ्तारी के विरोध में आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन शिमला में में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला फुंका गया। प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष ठाकुर सुखविन्दर सिंह सुक्खू ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी की गिरफ्तारी की कड़ी निन्दा करती है। जिस प्रकार आज राहुल गांधी व अन्य नेताओं को पूर्व सैनिक के परिवार से राम लोहिया अस्पताल में मिलने से रोका गया वह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है और लोकतन्त्र के लिए शर्म की बात है।

गौरतलब है कि मंगलवार को दोपहर 65 वर्षीय सूबेदार रामकिशन ग्रेवाल ने सरकारी निवास पर कथित तौर पर ज़हर खकर खुदकुशी कर ली थी ! सुसाइड नोट में उन्होंने लिखा था कि उन्हें वन रैंक वन पेंशन स्कीम के वादे के मुताबिक बढ़ी हुई पेंशन नहीं मिली !

पूर्व सैनिक के रिश्तेदारों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस को लताड़ते हुए राहुल गाँधी

पार्टी ने कहा कि आज एक पूर्व सैनिक द्वारा आत्महत्या की गई, जो केन्द्र की मोदी सरकार की सैनिकों के प्रति उनके नजरिये का दर्शाता है और साथ ही भाजपा जो वन रैंक, वन पैन्शन देने की बात करती रही है उसकी पोल खुल गई है।

कांग्रेस ने यह भी कहा कि भाजपा सरकार ने पूर्व सैनिको व सैनिको के लिए वन रैंक, वन पैन्शन को एक मजाक बना दिया है और वन रैंक वन पैन्शन पर भूतपूर्व सैनिकों को गुमराह किया गया है, जिस कारण आज यह परिस्थिती पैदा हुई है और पूर्व सैनिक आत्महत्या करने पर मजबूर हुए हैं।

कांग्रेस ने कहा कि ये बडी हैरानी की बात है कि राहुल गांधी जो पूर्व सैनिक के परिवार से मिलने राम लोहिया अस्पताल संवेदनायें व्यक्त करने जा रहे थे उन्हें मिलने से रोका गया और गिरफ्तार किया गया। कांग्रेस ने केन्द्र की भाजपा सरकार से सवाल करते हुए कहा कि देश की सबसे बडी विपक्षी पार्टी के नेता को क्या संवेदनाऐं प्रकट करने का अधिकार नही है? क्या देश में लोकतन्त्र की हत्या हो गई है? उन्होंनें कहा कि इस घटनाक्रम से दिल्ली पुलिस की गुड़ागर्दी भी खुल कर सबके सामने आ गई है।

कांग्रेस पार्टी ने कहा कि लोकतन्त्र में सबको समान अधिकार है और इसकी गरिमा को सुरक्षित रखना सबकी जिम्मेदारी बनती है, परन्तु केन्द्र सरकार और दिल्ली पुलिस द्वारा इस प्रकार की हरकत कर लोकतन्त्र की हत्या कर दी गई है।वन रैंक, वन पैन्शन की बात पर पार्टी ने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व वाली युपीए सरकार द्वारा की गई थी और वर्तमान मोदी सरकार ने इस विषय पर मात्र भूतपूर्व सैनिकों को गुमराह किया है। उन्होंनें कहा कि कांग्रेस पार्टी वन रैंक, वन पैन्शन मुद्दे पर पूर्व सैनिकों व सैनिकों के साथ मिलकर इसे जनआंदोलन का रूप देगी तथा इनके हितों की लड़ाई लड़ेगी।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS