पी.एच.सी.टुटू में डॉक्टर नदारद होने के कारण बिना उपचार लौट रहे मरीज

0
318

​मुख्यमंत्री ने पी.एच.सी. के लोकार्पण के दौरान दो डाक्टरों की तैनाती की घोषणा दो वर्ष पूर्व की थी लेकिन आजतक एक ही डाक्टर इस सेंटर मैं कार्य कर रहा है और वह भी नियमित रूप से उपलब्ध नहीं हैं कभी तैनात डाक्टर मीटींग में चले जाते हैं तो कभी अवकाश पर जिस कारण मरीजों को इस सेंटर से बिना उपचार के खाली हाथ लौटना पड़ता है !

शिमला-स्माईल इंडिया स्कीम के तहत पी.एच.सी.टुटू में डेंटल चेयर स्थापित की जाये तथा रेडियोग्राफर व एक अन्य डाक्टर की तैनाती की जाये ! यह मांग विकास समिति टुटू ने मुख्यमंत्री को तथा स्वास्थ्य मंत्री को लिखे एक पत्र के माध्यम से कही! समिति अध्यक्ष नागेन्द्र गुप्ता ने कहा की डेंटल चेयर स्थापित करने के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन में पर्याप्त स्थान भी उपलब्ध है !

उन्होने कहा की शुक्रवार ग्यारह बजे प्रदेश के मुख्यमंत्री अपने शिमला ग्रामीण निर्वाचन क्षेत्र के दौरे के दौरान पी.एच.सी.टुटू में स्थापित एक्सरे मशीन का शुभारंभ करेंगे तथा नए हेल्थ सेंटर भवन का शिलान्यास भी! गुप्ता ने कहा की समिति की ओर से भेजे गए पत्र के माध्यम से मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से टुटू दौरे के दौरान जनहित में डेंटल चेयर लगाने की घोषणा करने की मांग की है! उन्होने कहा की अभी इलाके की जनता को महंगे दाम देकर अपने दाँतो का इलाज करवाने के लिए निजी क्लिनिकों के धक्के खाने पड़ते हैं और गरीब व जरूरतमन्द लोगों को भारी भरकम आर्थिक बोझ से जूझना पड़ता है ! गुप्ता ने कहा की एक्सरे मशीन को सुचारु रूप से चलाने के लिए रेडियोग्राफर की तैनाती भी की जाये !

गुप्ता ने कहा की छ्टी मर्तवा प्रदेश की कमान संभाले वीरभद्र सिंह की दूरदर्शिता के कारण ही टुटू व आसपास की जनता को आज आधुनिक एक्सरे मशीन की सुविधा मिल रही है जिससे स्थानीय व आसपास की जनता को काफी आर्थिक व सुविधा का लाभ होगा ! समिति अध्यक्ष नागेन्द्र गुप्ता ने कहा की ​मुख्यमंत्री ने पी.एच.सी. के लोकार्पण के दौरान दो डाक्टरों की तैनाती की घोषणा दो वर्ष पूर्व की थी लेकिन आजतक एक ही डाक्टर इस सेंटर मैं कार्य कर रहा है और वह भी नियमित रूप से उपलब्ध नहीं हैं कभी तैनात डाक्टर मीटींग में चले जाते हैं तो कभी अवकाश पर जिस कारण मरीजों को इस सेंटर से बिना उपचार के खाली हाथ लौटना पड़ता है !

ज्ञात रहे की अगस्त,2014 को ​​मुख्यमंत्री ने पी.एच.सी. के लोकार्पण के दौरान एक्सरे मशीन लगाने की घोषणा की थी और मार्च 2015 में मशीन भी सेंटर में पहुँच गई थी लेकिन मशीन रूम बनने में देरी के कारण लगभग डेढ़ वर्ष के लंबे अंतराल के बाद स्थानीय जनता की जद्दोजहद के पश्चात यह एक्सरे मशीन अब स्थापित की गई है !

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS