धर्मशाला में भारत-पाकिस्तान मैच करवाने के लिए शहीदों के परिवार को पैसे का प्रलोभन दे रहे अनुराग: मनकोटिया

0
266
Dharamsala-Cricket-Ground

शिमला- हिमाचल के पूर्व सैनिको ने बीसीसीआई से जैश ए मुहमद प्रमुख मौलाना मसूद अजहर का सर कलम करके धर्मशाला लाना के बाद धर्मशाला में भारत पाक मैच करवाने की शर्त रखी है! हिमाचल पूर्व सैनिक लीग के अध्यक्ष मेजर विजय सिंह मनकोटिया ने साफ़ शब्दों में कहा की बीसीसीआई पहले मौलाना मसूद अजहर का सर यहाँ लेकर आए और फिर भारत का पाकिस्तान के साथ मैच करवाएं! उन्होंने साफ़ किया कि किसी भी सूरत में भारत पाकिस्तान का मैच धर्मशाला नहीं होने दिया जाएगा!

विजय सिंह मनकोटिया ने कहा कि 19 मार्च को धर्मशाला में होने वाले भारत और पाकिस्तान के बीच वर्ल्ड टी ट्वेंटी मैच पर अब केहर के बादल मडराने तेज़ हो चुके हैं! विकास निगम के उपाधयक्ष का यह भी कहना है कि बीसीसीअई सचिव अनुराग ठाकुर और मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बीच इस मामले को सुलझाने के लिए करीब आधा घंटे तक बैठक चली लेकिन इसके बाबजूद भारतीय भूतपूर्व सैनिक संघ के अध्यक्ष ने हिमाचल विधानसभा परिसर में प्रेस कांफ्रेंस कर अपना और शहीदों परिवारों का रुख अब साफ़ कर दिया है! विजय सिंह मनकोटिया ने बीसीसीआई के सामने शर्त रखी है की वो शौक से धर्मशाला में भारत और पाकिस्तान का मैच करवा ले लेकिन इससे पहले बीसीसीआई मौलाना मसूद अजहर का सर कलम कर धर्मशाला लेकर आए!

शहीदों के परिजनों को पैसे देने का दिया जा रहा प्रलोभन

मनकोटिया ने अनुराग ठाकुर पर आरोप लगाया कि बार बार इस मैच को करवाने के लिए शहीदों के परिवारों को मैच से होने वाले मुनाफे की रकम का कुछ प्रतिशत देने के बयान दे रहे हैं जो शहीदों का अपमान हैं!

भूतपूर्व सैनिक संघ के अध्यक्ष ने ये भी कहा कि बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर बार-बार ये कहते हैं की इस मैच को लेकर कांग्रेस सियासत कर रही है जबकी राजनीती बीसीसीअई में है ना की कांग्रेस में! मनकोटिया ने कहा की भारतीय भूतपूर्व सैनिक संघ इस मामले पर किसी भी सूरतेहाल में समझौता नहीं करेगी! उन्होंने कहा कि अनुराग ठाकुर के इस मैच को धर्मशाला में ही करवाने पर अब पूर्व सैनिकों और शहीदों के परिवारों की भावना भड़क चुकी है! अनुराग ठाकुर बार बार इस मैच को करवाने के लिए शहीदों के परिवारों को मैच से होने वाली मुनाफे की रकम का कुछ प्रतिशत देने के बयान दे रहे हैं जो शहीदों के अपमान वाले बयान हैं!

करो या मरो के नारे के साथ दस मार्च से शुरू करेगे आन्दोलन

पूर्व सैनिक लीग के अध्यक्ष ने कहा कि पूर्व सैनिक धर्मशाला में इस मैच के विरोध में दस मार्च से धरना शुरू करेगे इस मैच को किसी भी हाल में रोकने के लिए करो या मरो का नारा देने के साथ ही ऑपरेशन बलिदान के साथ पूर्व सैनिक और मैच का विरोध करने वाले लोग सड़कों पर उतरेंगे!

मेजर मनकोटिया का कहना है कि उन्हें गुप्तचर विभाग से सूचना मिली है की इस मैच को देखने के लिए के लिए 5 से 7 हज़ार पाकिस्तानी भी कश्मीर होते हुए धर्मशाला पहुँच रहे हैं! इस दौरान वहीँ पाकिस्तानी मैच में जहां पाकिस्तान का झंडा फहराएंगे तो वहीँ पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी भी करेंगे तो इससे ज़्यादा अपमान शहीदों का नहीं हो सकता! मनकोटिया ने कहा की 10 मार्च को पूर्व सैनिक धर्मशाला में इस मैच को किसी भी हाल में रोकने के लिए करो या मरो का नारा देने के साथ ही आपरेशन बलिदान के साथ पूर्व सैनिक और मैच का विरोध करने वाले लोग सड़कों पर उतरेंगे!

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS