शिमला निगम ने बिना निरिक्षण थमा दिए सेप्टिक टैंक/सोक पिट न होने पर बिजली, पानी कनेक्शन काटने के नोटिस: विकास समिति टूटू

0
265
Shimla mc notice on sceptic tank to vikas samiti Totu

शिमला- विकास समिति टूटू के पदाधिकारियों का कहना है की इन दिनों शिमला शहर में पीलिया के बढ़ते प्रकोप से पीछा छुड़ाने के मकसद से नगर निगम शिमला ने टुटू निगम वार्ड के भवन मालिको को सीवरेज टैंकों की उचित व्यवस्था न होने के नोटिस भेजकर अपनी गेंद भवन मालिकों के पाले में डालने की कोशिश की है!

समिति के अध्यक्ष नागेन्द्र गुप्ता व् महासचिव ठाकुर सिंह वर्मा ने एक सांझे ब्यान में कहा है कि स्थानीय भवन मालिकों ने उनके ध्यान में लाया है कि भवन मालिकों को आयुक्त नगर निगम की ओर से जारी नोटिस प्राप्त हुए हैं जिसमे उचित सेप्टिक टैंक व् सोक पिट न होने पर बिजली पानी के कनेक्शन काटने की धमकी दी गई है!

समिति अध्यक्ष ने कहा की जारी नोटिस में निगम स्टाफ द्वारा मौके का दौरा कर सैप्टिक टैंक सही न पाने की बात की गई है जो कि आधारहीन है! उन्होंने कहा कि उनके संज्ञान में टुटू निगम क्षेत्र के अधिकतर भवन मालिकों ने लाया है कि उनके घरों में नगर निगम का एक भी कर्मचारी और अधिकारी मौके का मुआयना करने नहीं आया है और नोटिस में जारी किया गया ब्यान आधारहीन है!

समिति अध्यक्ष का कहना है कि नोटिस में यह पूछा गया है कि क्या सैप्टिक टैंक ठीक से बना हुआ है,क्या सोकपिट बनाया गया है या सेप्टिक टैंक को कितनी मर्तवा खाली करवाया गया इसकी भी जानकारी भवन मालिक नोटिस के जवाब में दे! वहीँ विकास समिति टुटू के पदाधिकारियों ने कहा है कि इस प्रकार की जानकारी निगम के संबंधित विभाग को अपने तकनीकी कर्मचारियों व अधिकारियों को तैनात कर भवन मालिको से लेनी चाहिए और मौके की टेकनीकल रिपोर्ट निरीक्षण के बाद देनी चाहिए ताकि पीलिया की रोकथाम सही प्रकार से हो सके!

समिति अध्यक्ष ने कहा कि नोटिस पढ़ने से तो ऐसा प्रतीत होता है कि सिर्फ कागजों की खानापूर्ती की जा रही है और सारी जिम्मेवारी भवन मालिकों के सिर पर डाल दी गयी है! उन्होंने कहा कि भवन मालिक यदि झूटी रिपोर्ट देकर अपना हित साधता है तो उससे पीलिया की रोकथाम नहीं होने वाली जिस उद्देश्य से निर्माणाधीन सेप्टिक टैंको की रिपोर्ट माँगी गई है!

गुप्ता ने कहा कि इलाके में भवन मालिकों ने सोकपिट बनाये है या नहीं या सीवरेज का गंदा पानी खुले में या सड़कों में बह रहा है इसकी रिपोर्ट नगर निगम खुद अनुभवी तकनीकी अधिकारियों व् कर्मचारियों को तैनात कर के तैयार करे!

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS