शिमला के पुराना बस अड्डे में गड्ढों और गंदगी से परेशान लोग, किनारो पे रेलिंग भी नही

1
907
old isbt shimla garbage

शिमला- राजधानी शिमला के पुराने बस अड्डे की स्थिति बद से बदत्तर होती जा रही है लेकिन अभी तक कोई भी इसकी सुध नहीं ले रहा है। न तो हिमाचल पथ परिवहन निगम ने और न ही प्रदेश सरकार कोई उचित कदम उठा रही है। बस अड्डा सड़क खस्ताहालत हो चुकी है।

old-shimla-bus-stand-parking-space

जगह-जगह गढ्डे पड़े हैं।

isbt shimla old bus stand

इससे यात्रियों व वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बस अड्डे में सड़क किनारे रेलिंग भी नहीं लगाई गई है। इससे कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

shimla isbt poor infrastructure

ये भी पड़े: हिमाचल वॉचर द्वारा 23 Oct 2015 को की गई शिमला के पुराने बस अड्डे की शिकायत

अक्सर इस स्थान पर बसें मुड़ती है ऐसे में सड़क किनारे खड़े लोगों के लिए जगह बहुत कम बच जाती है इससे कभी भी यात्री गिर सकते हैं, लेकिन प्रशासन को इसकी कोई परवाह नहीं है।

Shimla ISBT

लोकल रूटों की बसें इसी बस अड्डे से चलती हैं, इस कारण स्कूली बच्चे भी इसी बस अड्डे में खड़े होकर बसों का इंतजार करते हैं बसों की मुड़ते समय कई बार यहां पर दुर्घटना होने से बाल बाल बची है। वहीँ शिमला के पुराने बस अड्डे पर हर तरफ कूड़े का अम्बर नज़र आता है! बसों का इंतज़ार करने वाले यात्री दुर्गन्ध मैं खड़े रहने के लिए मजबूर हैं। गंदगी का ये नज़ारा पर्यटकों मैं भी शिमला की छवि को दागदार करता है.गंदगी और कूड़े की शिकायत कई बार प्रशाशन तक पहुंचे गयी जिसका अद्धिकरियों पे कोई असर नज़र नहीं आया।

old isbt shimla garbage

लंबे समय से यहां पर रैलिंग लगाने की मांग उठाई जा रही है। लेकिन बस अड्डा प्रशासन को इसकी कोई परवाह नहीं है।

Shimla old isbt

चालकों के अनुसार इन गड्ढों के कारण बसों के पट्टे टूट जाने का खतरा बना रहता है। वहीं, बस अड्डा कार्यालय की छत पर से पानी रिसने की समस्या का कोई निदान न होने के कारण यहां आने वाले यात्रियों को परेशानी से दो चार होना पड़ता है। बस अड्डे के शौचालय का भी दयनीय हाल है।

old-isbt-shimla tunnel

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

1 COMMENT

Comments are closed.