हिमाचल के CM वीरभद्र पर अब मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज

0
265

शिमला- आय से अधिक संपत्ति मामले में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह अब नई मुसीबत में फंस गए हैं। सीबीआई के बाद इन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट ने उनके व उनकी पत्नी पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है।
सीबीआई के साथ ईडी का भी करना होगा सामना

वह इस मामले में सीबीआई की जांच का सामना तो पहले से ही कर रहे हैं, अब इसके अलावा उन्हें केंद्रीय वित्त मंत्रालय के इन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट का भी सामना करना पड़ेगा। जानकारी के मुताबिक इनके अलावा कुछ और लोगों पर भी केस दर्ज किया गया है। इस घटनाक्रम के बाद सीएम वीरभद्र सिंह पर राजनीतिक दबाब बढऩे की संभावनाएं प्रबल हो गई हैं।

सीबीआई की एफआईआर को बनाया आधार

प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग केस दर्ज करने के लिए सीबीआई की आय से अधिक संपति के मामले में दर्ज की गई एफआईआर को आधार बनाया है। ईडी ने आरोप लगाया है कि अवैध तरीके से कमाई गई संपत्ति को लीगल दिखने के लिए वीरभद्र सिंह की आयकर रिटर्न में फर्जी एंट्री की गई है।

आय से अधिक 6.3 करोड़ कमाने का आरोप

ईडी का यह भी आरोप है कि 2009 से 2011 तक इस्पात मंत्री रहते हुए वीरभद्र सिंह ने 6.3 करोड़ रुपए आय के ज्ञात स्रोतों से अधिक कमाए थे। इस मामले में सीबीआई सितंबर महीने में एफआईआर दर्ज की थी और वीरभद्र सिंह के 13 ठिकानों पर छापे मारे थे। इस मनी लॉन्ड्रिंग केस के दर्ज होने से वीरभद्र सिंह को अब सीबीआई के साथ ही प्रवर्तन निदेशालय का भी सामना करना पड़ेगा। ईडी भी आय से अधिक संपत्ति के मामले में पूछताछ के लिए वीरभद्र सिंह की गिरफ्तारी के प्रयास करेगा।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS