पर्यटक ने लोकल बस के चालक को पीटा, छह टांके लगे

0
362

शिमला- वीरवार को दिल्ली से आए पर्यटक ने लोकल बस के चालक व परिचालक को पीट डाला। इसस चालक को गांभीर चोटें आई हैं। उसे छह टांके लगाने पड़े हैं, जबकि परिचालक भी घायल हुआ है। चालक विचित्र सिंह (48) पुत्र मलकित सिंह ने बताया कि जब वह वीरवार रात 9 बजे बस न. एचपी 63-6772 को नए बस अड्डे से पुराने बस अड्डे के लिए रवाना हुआ तो उनकी बस करीब 9 बजकर 20 मिनट पर पुराना बस अड्डे पंहुची। जैसे ही वह बस को अड्डे में लगा रहा था कि बस के रास्ते में खड़े दिल्ली के पर्यटक जस्मीत सिंह (25) पुत्र मनजीत सिंह निवासी कालका झील ने चालक-परिचाल से गाली गलोच शुरू कर किया। इस पर बात बढ़ गई और दोनों पक्षों में हाथापाई शुरू हो गई। इस दोरान जस्मीत के अपने हाथ में पहने धातू के भारी कड़े से उसके सिर पर हाथ दे मारा, जिससे वह लहुलुहान हो गया। इसके कारण उसे छह टांके लगाने पड़े हैं।

fight-between-tourist-and-hrtc-driver-old-isbt-shimla-1

लोकल बस अड्डे के समीप दुकानदारों ने बताया कि जस्मीत सिंह ने चालक, परिचालक व अन्य यात्रियों के साथ जमकर मारपीट की। उन्होंने बताया कि उसने सभी को अपने हाथ में पहने हुए कड़े के साथ हमला किया। उसके साथ एक अन्य दोस्त भी था लेकिन जैसे ही वह मारपीट का महौल बना उसका दोस्त वहां से रफुचक्कर हो गया। मारपीट को देख कर वह की स्थानीय पुलिस कर्मचारियों ने जस्मीत सिंह को हिरासत में लेकर मारपीट का मामला दर्ज कर लिया है।

उधर, पर्यटक जस्मीत सिंह ने बताया कि उसकी ओर अचानक बस आने के चलते उसके मुंह से गलती से गाली निकल गई। इसका उन्हें अफसोस है। उन्होंने कहा कि गाली देते ही बस में सवार यात्री, चालक व परिचालक उसके पास आए व आत्म रक्षा के लिए उसे झगड़ा करना पड़ा।

fight-between-tourist-and-hrtc-driver-old-isbt-shimla3

चालकों-परिचालकों ने चक्का जाम कर किया प्रदर्शन

चालक-परिचालक पर हमला होने से गुस्साए बाकी बसों के चालकों-परिचालकों ने इस घटना का विरोध किया और उन्होंने बसें खड़ी कर दीं। इनमें हिमाचल प्रदेश परिवहन निगम की बाकी बसों के चालक व परिचालक भी शामिल थे। इन सभी ने अपनी बसें जहां थी, वहीं खड़ी कीं और पुराने बस अड्डे के बाहर धरने पर बैठ गए।

यात्रियों को हुई भारी परेशानी

fight-between-tourist-and-hrtc-driver-old-isbt-shimla4

यात्री को रात को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। रात्रि में लोकल बस अड्डे से नया बस अड्डे को दो बसें साढ़े नो बजे व 10:10 पर जाने वाली बसे भी नहीं चलीं। इसके कारण सवारियों को टैक्सी लेकर इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ी। रात का समय होने के कारण टैक्सी चालकों ने भी यात्रियों से मुंह मांगा किराया वसूला

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS