10वें दिन टनल से बाहर निकाले गए दोनों मजदूर

0
249

हिमाचल के बिलासपुर में 12 सितंबर से निर्माणाधीन टनल में फंसे दो मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। दोनों मजदूर 10 दिन बाद टनल से बाहर निकाले गए। सोमवार शाम करीब 4 बजकर 10 मिनट पर दोनों मजदूरों को बाहर निकाल लिया गया। बीआरओ और एनडीआरएफ के जवानों की मेहनत आखिरकार रंग लाई।

पहले दोनों मजदूरों को सुबह बाहर निकाले जाने की कोशिश की गई थी मगर पहाड़ी से टनल तक की गई ड्रिलिंग इतनी तंग थी कि इसमें से मजदूरों को बाहर नहीं लाया जा सकता था। ऐसे में फिर इसे चौड़ा किया गया। बाद में एनडीआरएफ के कुछ जवान टनल में उतरे और बारी बारी दोनों मजदूरों को बाहर निकाला गया। पहले मजदूर को करीब 211 घंटे 47 मिनट बाद टनल से बाहर निकाला गया है। वहीं, दूसरे मजदूर को इससे दस मिनट बाद बाहर निकाला गया।

bilaspur-tunnal-55fa5c289378e_exlst

दोनों मजदूरों ने करीब 10 दिन बाद टनल से बाहर आए। इन्हें अब डॉक्टरों की निगरानी में रखा जाएगा। बताया जा रहा है कि अभी दोनों स्वस्‍थ हैं मगर इनसे ज्यादा बातचीत नहीं की जा रही है। दोनों को बाहर निकालते वक्त मौके पर भारी भीड़ भी जमा हो गई। लोगों ने बीआरओ और एनडीआरएफ के जवानों की इस प्रयास के लिए सराहना भी की।

गौरतलब है कि टनल में 12 सितंबर की रात धंसाव हो गया था। जिसके बाद तीन मजदूर इसमें फंस गए थे। एक मजदूर हिरदाराम का अभी भी कोई पता नहीं चल पाया है। शुरुआती चार दिन तो इन दोनों मजदरों के जिंदा होने की भी उम्मीद नहीं थी। मगर पांचवें दिन जब पहाड़ी के उपर से ड्रिलिंग कर कैमरे टनल में पहुंचाए गए तो पता चला कि दो मजदूर अभी भी जिंदा है। इसके बाद रेस्‍क्यू ऑपरेशन शुरू हुआ और ड्रिलिंग से छेद कर टनल से दोनों को बाहर निकाला जा सका।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS