मुख्यमंत्री ने सराहे पर्यटन विकास निगम के प्रयास

0
269
BOD-meeting-of-HPTDC

BOD-meeting-of-HPTDC

“प्रदेश सरकार राज्य की पर्यटन क्षमताओं के समुचित दोहन के लिए बेहतर प्रयास कर रही है। अधिक से अधिक घरेलू एवं विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए उचित अधोसंरचना के विकास के साथ.साथ सरकार होटलों में ठहरने की क्षमता को बढ़ाने एवं पर्यटकों को बेहतरीन सुविधाएं उपलब्ध करवाने की दिशा में कदम उठा रही है”

मुख्यमंत्री ने हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम के निदेशक मण्डल की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि निगम राज्य में पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने तथा राज्य को विश्व भर में अग्रणी पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने के लिए सराहनीय कार्य कर रहा है।

वीरभद्र सिंह ने कहा कि इस वित्त वर्ष के दौरान निगम ने लाभ अर्जित किया है। निगम की 72 करोड़ रुपये खर्चों के मुकाबले 75 करोड़ रुपये की आय हुई है और इसने 3 करोड़ का शुद्ध लाभ दर्ज किया है। वर्ष 2013.14 के लिए निगम ने 6 करोड़ रुपये के लाभ का लक्ष्य निर्धारित किया है जो इस वर्ष के लाभ से लगभग दोगुना है। उन्होंने कहा कि अपनी आय में वृद्धि के लिए निगम द्वारा उठाए गए पग सराहनीय हैं और निगम राज्य की आर्थिकी में भी योगदान दे रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली.मनाली तथा दिल्ली.शिमला के लिए एचपीटीडीसी की वॉल्वो बसों में वाई.फाई सुविधाएं उपलब्ध करवाने का प्रयोग एक सराहनीय प्रयास है, जिससे यात्रियों को अपने मोबाईलए आई.पौट एवं लैपटॉप पर इंटरनेट सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

निगम के प्रधान सचिव, वी. सी. फारका ने कहा कि प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए निगम ने दिल्ली एवं गोवा पर्यटन के साथ समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया है। इसके अलावा ओडिशा, मध्य प्रदेश, आन्ध्र प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात एवं राजस्थान जैसे अन्य राज्यों के साथ भी समन्वय स्थापित किया जाएगा ताकि इन राज्यों से अधिक से अधिक लोग इन स्थानों में घूमने के लिए आ सकें।

फारका ने कहा कि प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए निगम ने 80 हजार से अधिक मोबाईल धारकों एवं टूरिस्ट एण्ड ट्रैवल एजैंटों के ई.मेल पते का डाटा बेस तैयार किया है ताकि उन्हें एसएमएस एवं ई.मेल अभियान में जोड़ा जा सके। निगम ट्वीटर, फेसबुक इत्यादि के माध्यम से सोशल मीडिया मार्किटिंग की संभावनाओं का भी पता लगा रही है। गुगल मार्किटिंग वैब.टूल का ग्राहक बनकर

सर्च इंजन का अधिकतम उपयोग आरम्भ किया गया है ताकि गुगल सर्च इंजन में एचपीटीडीसी बैवसाईट की बेहतर उपस्थिति सुनिश्चित बनाई जा सके।

निगम के प्रबन्ध निदेशक एवं निदेशक सुभाषीश पाण्डा ने निगम द्वारा कार्यान्वित की जा रही विभिन्न गतिविधियों एवं सुविधाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आने वाले पर्यटकों के लिए निगम द्वारा अनेक पैकेज आरम्भ किए गए हैं,जिससे धार्मिक,साहसिक एवं धरोहर पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। इसके अतिरिक्त नव दम्पत्तियों के लिए विशेष हनीमून पैकेजए टॉयट्रेन पैकेज इत्यादि भी आरम्भ किए गए हैं, जिनसे ज्यादा से ज्यादा पर्यटक हिमाचल की ओर आकर्षित होंगे और प्रदेश में उनका ठहराव अधिक समय तक सुनिश्चित होगा।

पाण्डा ने कहा कि निगम ने वर्ष 2013.2014 में 86 करोड़ रुपये कमाई का लक्ष्य निर्धारित किया है। निगम अपने खर्चों में भी कटौती करेगा ताकि इसे वित्तीय तौर पर सुदृढ़ बनाया जा सके।

वित्त सचिव मनीष गर्ग ए राज्य पर्यटन विकास निगम के महा प्रबन्धक योगेश बैहल तथा निगम के अन्य अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS