करसोग-कुफरीधार एचआरटीसी बस सेवा बंद होने के कारण लोग परेशान

0
267
Bagaila panchayat karsog

करसोग- जिला मंडी के अंतर्गत आने वाली बगैला पंचायत के स्थानीय लोगों ने आज करसोग जिला के उपमण्डलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में लोगों ने करसोग से कुफरीधार बस सेवा बहाल करने की मांग की। ज्ञापन में लोगों ने कहा कि हिमाचल प्रदेश परिवहन निगम की बस पिछले सात वर्षो से चल रही है, लेकिन अब इस मार्ग पर पिछले दो महीनो से बस सेवा बंद पड़ी है।

बस सेवा बंद होने से क्षेत्र के लोगो को बहुत परेशानी हो रही है। यह बस रूट से लोअर करसोग,मतेहल, बगैला, डबरोट इत्यादि पंचायतों को सुविधा प्रदान होती है। इस रूट के बंद होने के कारण स्कूली बच्चों, बागबानों व क्षेत्र के लोगों को भारी दिक्कतों का समाना करना पड़ रहा है।

लोगों का यह भी कहना है कि इस रूट पर निजी बस ऑपरेटरों ने भी रूट परमिट ले रखे हैं, लेकिन यह बस मालिक इस रूट पर बसें नहीं भेजते हैं। लोगों ने उपमण्डलाधिकारी से पत्र में निवेदन किया है कि प्राइवेट बस ऑपरेटरों को ये निर्देश दिए जाये कि रूट पर अपनी बसें भेजें या तो इनके बस परमिट बंद कर दिए जाये।

वहीं बगैला पंचायत के ,उप प्रधान नानकचन्द, पूर्व उप प्रधान परसराम, पूर्व बीडीसी लीलाधर, कमलेश कुमारी व समस्त स्थानीय निवासियों ने इस समस्या से संबंधित एक पत्र परिवहन मंत्री जीएस बाली को लिखा जिसमे उन्होंने करसोग से कुफरीधार तक चलने वाली निगम की बस को फिर से चलाने का आग्रह किया है।

लोगों ने कहा कि एक तो बस न चलने की वजह से उन्हें काफी परेशानी का सामना कारण पड़ रहा है तो दूसरी ओर अतिरिक्त पैसा भी खर्च करना पड रहा है।

ग्रामीणों का कहना है कि यहां के स्थानीय बस अड्डा कर्मचारीयों से भी कई बार बस न चलने के बारे मे सम्पर्क किया गया। तो वहा से यही जवाब मिलता है कि बसों की कमी है। यहां पर इस समय 15 रुट प्रभावित है।

करसोग के इन रुटों के बन्द होने से लोग काफी परेशान है। साथ मे निगम का भी काफी नुकसान हो रहा है। इन मे से एक रुट करसोग से कुफरीधार का भी है। इस रुट मे मात्र एक ही बस सुबह के समय और एक बस शाम के समय चलती है।

लोगों के आने जाने का एकमात्र यही जरीया है। अन्यथा लोगों को 8 से 10 किलोमीटर सफर अलग से पड जाता है। इस बस के बन्द होने से आधा दर्जन पंचायतों के लोग प्रभावित हो रहे हैं। साथ मे स्थानीय जनता के साथ भी मजाक किया जा रहा है।

लोगों ने परिवहन मंत्री से इन रुटों को जल्दी से जल्दी बहाल किया जाने का निवेदन किया है। ताकी लोगों को आने जाने मे परेशानी का सामना न करना न पडे।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS