नए विकलांगता कानून के तहत विकलांग विद्यार्थियों को विश्विविद्यालय में दिया जाये 5% आरक्षण:राज्यपाल

0
87
HPU Disabled Students association
चित्र: इंडियन एक्सप्रेस/ प्रतीकात्मक

शिमला- डिसेबल्ड स्टूडेंट्स एसोसिएशन(डीएसए) के ज्ञापन पर कार्रवाई करते हुए प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय को निर्देश दिए हैं कि विकलांग विद्यार्थियों को नए विकलांगता कानून के तहत 5 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए। उन्होंने इस बारे में विश्विविद्यालय से जवाब तलब किया है।

डीएसए के संयोजक सतीश ठाकुर ने बताया कि राज्यपाल के सचिव ने उन्हें इस बारे में सूचित किया है। ये ज्ञापन पिछले महीने राज्यपाल को सौंपा गया था। इसमें कहा गया था कि विश्वविद्यालय ने संसद द्वारा दिसंबर में पास किए गए विकलांगजन अधिकार अधिनियम को अभी तक लागू नहीं किया है। यह कानून 19 अप्रैल से लागू होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस कानून की धारा 32 में कहा गया है कि उच्च शिक्षण संस्थानों में विकलांग विद्यार्थियों को 5 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए। यह सभी कोर्सों और होस्टलों में हर वर्ष दिया जाना चाहिए। विश्वविद्यालय के नकारात्मक रवैये के कारण अनेक विद्यार्थियों को हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने पड़ा है।

डीएसए के संयोजक ने कहा कि इस एसोसिएशन का उद्देश्य विकलांग विद्यार्थियों के साथ हो रहे भेदभाव को दूर कराना और उनकी शिक्षा के लिए उचित वातावरण तैयार कराना है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS