वीडियो: गुड़िया रेप-हत्या मामला : पुलिस जांच से गुस्साए लोगों ने किया पुलिस स्टेशन पर पथराव, गाड़ी तोड़ी, ठियोग बाजार बंद

0
969

प्रदर्शनकारी अभी भी डटे हैं पुलिस थाने के बाहर

शिमला- कोटखाई में छात्रा से रेप और हत्या का मामला में पूरा ठियोग बाजार बंद ग्रामीणों ने पुलिस के गाड़ी के शीशे तोड़े और पुलिस थाना ठियोग पर गुस्साये लोगों ने पथराव भी किया। दरसअल पिछले कल पुलिस के बड़े अधकारियों द्वारा की गए प्रेससवार्ता में पुलिस द्वारा बताई गयी इस घटना की परिकल्पना लोगो को रास नहीं आ रही है।

वीडियो

पुलिस की जांच से लोगो काफी नाराज़ है और गुस्साए लोगो ने हंगामा किया और पत्थरबाजी भी की।

hp-police-sit-investigation

जानकारी के अनुसार गुस्साए लोगों ने एसपी और डीएसपी के साथ बदसलूकी और पुलिस की गाड़ियों को निशाना बनाया। लोगों ने ठियोग-हाटकोटी सड़क जाम कर दी और सड़क पर नारेबाजी शुरू कर दी। लोग आरोप लगा रहे है कि मामले में प्रभावशाली लोगों को पुलिस बचा रही है जबकि छोटे लोगों को फंसाकर मामले को रफा दफा करने की कोशिश की जा रही है।

Theog-Police
चित्र: पंजाब केसरी

इस केस की निष्पक्ष जाँच के लिए लोगों ने फिर से इस के लिए सीबीआई जांच की मांग उठाई है। बताय जा रहा है कि कई जगहों पर लोगों की पुलिस के साथ झड़प भी हुई है। हजारों की संख्या में महिलाएं इस प्रदर्शन में शामिल हैं। दूर दराज के गांवों के लोग भी रैली में शामिल हो गए हैं। हालात काबू में करने के लिए पुलिस के वज्र वाहन वहां पहुंच गए हैं। 

पढ़ें:कोटखाई रेप व मर्डर केस की गुत्थी सुलझी, 55 घंटे में एसआईटी ने पकडे 6 आरोपी

लोगों ने यह आरोप भी लगाया है कि जब तक इस केस की जांच डीएसपी के स्तर पर की जा रही थी तब तक सब ठीक ठाक था लेकिन जैसे ही पुलिस महकमे के बड़े अधिकारी इस जांच में शामिल हुए तो जांच की दिशा ही घुमा दी गयी।

लोगों ने यही भी आरोप लगाया है कि पुलिस ने जल्दबाजी और दबाव में गलत लोगों को आरोपी बनाकर इस मामले को रहा दफा करने का प्रयास कर रही है और असली आरोपियों को बचाया गया है। लोगों की मांग है कि इस मामले की जांच सीबीआई से करवाई जाए। 

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS