कांगड़ा चाय पर कार्यशाला में लगभग 1000 चाय उत्पादक एवं विक्रेता लेंगे हिस्सा

0
152
Kangra-Tea

काँगड़ा- हिमाचल प्रदेश पेटेंट सूचना केन्द्र 24 मार्च को हिमालयन जैव संसाधन संस्थान पालमपुर में कांगड़ा चाय, भौगौलिक संकेतक पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन कर रहा है। कार्यशाला की अध्यक्षता हिमाचल प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष बृज बिहारी लाल बुटेल द्वारा की जाएगी।

इस कार्यशाला में पालमपुर एवं अन्य कांगड़ा चाय उत्पादक क्षेत्रों से लगभग 1000 चाय उत्पादक एवं विक्रेता हिस्सा लेंगे। कार्यशाला में मुख्य तौर पर कुणाल सत्यार्थी, संयुक्त सदस्य सचिव राज्य विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं पर्यावरण, डा0 संजय कुमार, निदेशक आईएचबीटी , पालमपुर, अनुपम दास उप-निदेशक, टी बोर्ड, पालमपुर एवं डी एस कंवर तकनीकी अधिकारी ;चायद्ध विशेष रुप से उपस्थित रहेंगे और कार्यशाला के दौरान होने वाली विवेचना में हिस्सा लेंगे।

इस कार्यशाला में कांगड़ा चाय की authorised usership एवं बाजार में उपलब्ध अवसर और इससे संबंधित अन्य विषयों पर चर्चा होगी। ब्रिटिश काल में कांगड़ा चाय लन्दन और एमस्टरडेम के बाजारों में निर्यात करी जाती थी। उस समय में कांगड़ा चाय की काफी ख्याती थी।

हालाँकि पिछले कुछ समय में कांगड़ा चाय उत्पादकों का चाय के कारोबार में घटती रुचि चिंतनीय विषय है और इस हेतु हम सबको कार्य करने की जरुरत है। यह कार्यशाला भविष्य में नीति निर्धारण एवं कांगड़ा चाय की खोई हुई प्रतिष्ठा को पुनः बहाल करने में सहायक होगी।

इस अवसर पर कांगड़ा चाय पलान्टर एसोसिएशन की तरफ से जे एल बुटेल एवं अन्य सदस्य उपस्थित रहेंगे। कार्यशाला में डा0 आशु गुलहाटी, डा0 आर के सूद, डी0 एस0 कंवर, अनुपम दास कांगड़ा चाय और इससे संबंधित विषय पर प्रकाश डालेंगे।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS