ग्रीन टैक्स चुकाए बिना शिमला शहर पहुंचने वाली गाड़ियों पर लगेगा 5000 रुपये जुर्माना

0
547
shimla-mc-green-tax
चित्र: Indian Cars Bikes/सांकेतिक

शिमला- हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला घूमने आने वाले सैलानियों को अब शिमला में प्रवेश करने से पहले फीस भरनी पड़ेगी।फीस न चुकाने पर 5 हजार जुर्माना भरना पड़ सकता है। नगर निगम शिमला ने सैलानियों से ग्रीन टैक्स फीस वसूलने की तैयारी कर ली है। दरअसल अब अपनी गाड़ियों से शिमला आने वाले सैलानियों को शहर में एंट्री से पहले ग्रीन फीस चुकानी पडेगा। छोटी और बड़ी गाड़ियों के लिए ये फीस 200 से 400 रुपए तक निर्धारित की गई है।

बाहरी राज्यों से आने वाले सैलानी और अन्य लोग मोबाइल ऐप के जरिये ऑनलाइन भी ग्रीन फीस जमा करवा सकेंगे। इसके अलावा परवाणू बैरियर, नगर निगम के कैश काउंटर और लोक मित्र केंद्रों पर भी ग्रीन फीस जमा करवाई जा सकेगी।फिलहाल अभी सरकार से मंजूरी मिलने के बाद नगर निगम ने ट्रायल के तौर पर एक महीने के लिए ग्रीन फीस लागू करने की योजना बनाई है। ट्रायल पीरियड के दौरान ग्रीन फीस न चुकाने वालों को पेनल्टी भी नहीं लगाई जाएगी।

ग्रीन फीस चुकाए बिना शहर पहुंचने वाली गाड़ियों पर पांच हजार रुपये जुर्माना लगाने का प्रावधान किया गया है। नगर निगम शिमला अभी बिना बायलॉज तय किए राजधानी शिमला में ग्रीन फीस लागू करने की तैयारी कर रहा है। ट्रायल के दौरान नगर निगम को ग्रीन फीस लागू करने में पेश आने वाली समस्याओं का भी पता लग जाएगा और ट्रायल के बाद प्रभावी तरीके से योजना लागू की जाएगी।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS