HP Patwari Exam Scam

शिमला- पाक साफ भर्ती का दावा करने वाले हिमाचल के राजस्व विभाग की पटवारी भर्ती परीक्षा सवालों के घेरे में आ गई है। परीक्षा में नकल का आरोप लगाते हुए कुछ अभ्यर्थियों ने मुख्य सचिव व अतिरिक्त मुख्य सचिव राजस्व से लिखित शिकायत की है।

शिकायतकर्ता का आरोप है कि नकल की वजह से ही अयोग्य अभ्यर्थी भी इस परीक्षा में चयनित हो गए। ऐसे में परीक्षा को निरस्त कर नए सिरे से किसी तीसरी एजेंसी के माध्यम से परीक्षा कराई जाए। साथ ही हर परीक्षा केंद्र की वीडियोग्राफी कराई जाए।

राजस्व विभाग में पटवारी के 1120 पदों के लिए 13 अगस्त को प्रदेश के 49 परीक्षा केंद्रों पर लिखित परीक्षा करवाई गई थी। जिला स्तर पर होने वाली परीक्षा के लिए सभी जिलों के डीसी को नोडल अफसर बनाया गया था।

जानिए क्या हुई परीक्षा में गड़बड़ी, ये है पूरी शिकायत

शिकायतकर्ता का आरोप है कि चंबा जिले में राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल ब्वॉयज चंबा के रोल नंबर 559844 के अलावा इसी सीरीज के 45, 47, 48, 49 जनरल श्रेणी में टॉप पांच पर आए हैं।

इसके अलावा चंबा के ही बीएड कॉलेज सरु के 562140, 141,143, 145, 146, 147, 148 व 154, 155, 156, 556372, 373, 374 चयनित हुए। जीएसएसएस सुंडला 555917, 18, 19, जीएसएसएस सैकोठी के 553371, 73, 74, 76 पास हुए।

इसी तरह बिलासपुर में रोल नंबर 702058, 59, 60, 64, 65, 66, 67, 69 व 72 और सिरमौर जिले में रोल नंबर 400503, 504, 506, 507, 1035, 1036, 2012, 2013, 2014 व 2015 एक साथ चयनित हुए हैं।

अफसरों ने किया था नकल मुक्त परीक्षा का दावा

परीक्षा के बाद अधिकारियों ने परीक्षा के नकल मुक्त होने का दावा किया था। लेकिन रिजल्ट आने के बाद से ही लिखित भर्ती परीक्षा विवादों में आ गई है। चंबा निवासी प्रेम सिंह ने मुख्य सचिव वीसी फारका और अतिरिक्त मुख्य सचिव तरुण श्रीधर को ईमेल के जरिये इस बाबत शिकायत की है।

एक ही सीरीज के एक साथ कई रोल नंबरों का उल्लेख कर दावा किया है कि परीक्षा में ग्रुप में नकल हुई है। ऐसे में मामले की जांच कराई जाए। शिकायत आने के बाद अतिरिक्त मुख्य सचिव ने मामले की शिकायत पर जांच कराने की बात कही है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS