केंद्र का शहरी विकास मंत्रालय बताएगा शिमला स्वच्छ है की नही

0
209

विभाग 12 जनवरी को करेगा राजधानी में करेगा सर्वेक्षण, निगम ने चलाया स्वछता अभियान

शिमला- केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा स्वच्छ भारत अभियान के तहत चयनित किए गए देश के 75 शहरों के मद्देनज़र शिमला नगर निगम भी सफाई व्यवस्था के लिए अपना आत्म मूल्यांकन का काम शुरू करने जा रहा है!

दरसल केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय स्वच्छ भारत मिशन के तहत देश के 75 शहरों में सफाई सर्वेक्षण करेगा ओर जो शहर सफाई के मामले में जितना बेहतर होगा उसे उतने ही ज़्यादा पायंट्स दिए जाएंगे! वहीँ आत्म मूल्यांकन के तहत निगम ने आम जनता की राय , शिकायत और निगम के बेहतर प्रयास जानने के लिए टाल फ्री नम्बर 18002672777 भी जारी किया है जिसपर कोई भी अपने वार्ड या घर के आस पास गंदगी होने या फिर फिर बेहतर सफाई व्यवस्था की राय दे सकता है!

निगम ने डोर तू डोर गार्बेज कलेक्शन में कितना अछा या कितना खराब काम किया ये भी इस टाल फ्री नम्बर पर बताया जा सकता है! ये प्रक्रिया केंद्र के ताज़ा निर्देश के बाद ही शुरू की जा रही हैं!

इस्ससे पता चल पाएगा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत किस शहर में सबसे ज़्यादा कार्य हुए हैं और कौन सा शहर इसमें पिछड़ा हुआ है! इसके अलावा केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय की एक टीम आगामी 12 जनवरी से 15 जनवरी के बीच शिमला आएगी जो अपने स्तर पर भी कई वार्ड में जाकर सफाई सर्वेक्षण कर एक रिपोर्ट तैयार करेगी !

इसी रिपोर्ट में 75 शहरों के लिए अंक तैयार किए जाएंगे, जारी किए गए टाल फ्री नम्बर में निगम जनता से कुल पांच सवाल पूछेगा इनमें निगम द्वारा शहर की जनता से पूछा जाएगा कि क्या आप अपने इलाके में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त पाते हैं या नहीं? क्या आपको अपने क्षेत्र में कूड़ा दान सुविधापूर्व्र्क मिल जाता है? क्या आपको आपके इलाके में सामुदायिक या सार्वजनिक शौचालय सुविधा प्राप्त है? क्या आपको इन शौचालयों में पानी , नलका , दरवाज़ा आदी जैसी मोल्ल्भूत सुविधाएं मिल रही हैं? क्या आपके अपने घर में शौचालय की व्यवस्था है भी या नहीं? इस सभी सवालों के सम्बंधित जवाबों के लिए लिए निगम पहले खुद को 95 से लेकर 0 अंक देगा

इसके अलावा शिमला को साफ़ सुथरा बनाने के लिए निगम ने शिमला दाखिल होने पर सैलानियों को दी जाने वाले विशेष कार बिन बैग को भी लांच किया! ये बैग हिमाचल के सीमा क्षेत्र परवाणू में हर सैलानी को मात्र 50 रूपए में दी जाएंगे! इसके बाद किसी भी तरह के कचरे आदी को अपने वाहन से बाहर फैंके की बजाए इन बैग्स में डालेंगे! निगम प्रशासन के मुताबिक़ इस योजना की अगले एक महीने में शुरुवात हो जाएगी और इसके लिए जल्द ही टेंडर प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS