पुराने रूप में नजर आएगी एतिहासिक ईमारत गार्टन कैसल ,54 करोड़ लागत, 3 साल का समय

0
314

शिमला- शिमला की एटिहासिक गार्टन कैसल बिलिंडग जल्द अपने पुराने रूप मे नजर आएगी! गार्टन कैसल बिलिंडग के जल्द जिर्नौधर का कार्य जल्द शुरू किया जायेगा! भारत सरकार के महालेखाकार विभाग द्वारा इसका कार्य शुरू कर दिया है! इस भवन के निर्माण में 54 करोड़ रुपे खर्च किये जायेगे! सोमवार को प्रधान महालेखाकार लेखाकार भारत सरकार शशिकांत शर्मा ने इसकी आधारशिला रखी ओर कहा की इस भवन को पुराने रूप मे ही बनाया जाएगा!

उनोहने कहा की भवन का सवरूप पहले जैसे हो इसका प्रयास किया जाएगा ! इस भवन के जिर्दौधार के लिए 54 करोड़ खर्च किए जाएगे ! ओर तीन साल के अंदर इस कार्य को पूरा किया जाएगा ! उनोहने कहा की भवन को भूकंप रोधी बनाया जाएगा ! इस भवन को बनाने के लिए विभिन विभागो से राय ली गई है ! और डीपीआर तैयार की जा चुकी है!

ब्रिटिश हुकूमत के इंपीरियल सिविल सचिवालय की गवाह रही व नेशनल हेरिटेज बिलिंडग का दर्जा पाई राजधानी शिमला की ऐतिहासिक व भव्‍यों इमारतों में शुमार है जोकि जनवरी 2014 मे दो मंज़िले जल कर राख़ हो गई थी इस भवन मे महालेकाकार का कार्यलय था ! भवन के जलने के बाद विभाग ने इसके जिर्नौधार के लिए कमेटी बनाई थी ! जिसने डीपी आर तैयार कर अब इसका कार्य शुरू किया जा रहा है !

Shimla’s most magnificent building Gorton castle ( AG Office )caught fire last night, the building faced huge damage and loss of official documents.

Posted by Himachal Watcher on Tuesday, January 28, 2014

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS