ढाई घंटे जाम में फंसी रही एंबुलेंस, नवजात ने तोड़ा दम

0
271

आनी (कुल्लू) – हिमाचल के कुल्‍लू में एनएच-305 पर शुक्रवार को निगान-आनी के बीच करीब ढाई घंटे जाम लगा रहा। इससे जहां सैकड़ों लोग अपने गंतव्य पर देरी से पहुंचे, वहीं 108 एंबुलेंस के फंसने से एक नवजात की भी मौत हो गई। नवजात को आनी से रामपुर रैफर किया गया था।

लेकिन नवजात की रामपुर अस्पताल पहुंचने से पहले ढाई घंटे जाम में फंसे रहने के कारण मौत हो गई। जितने समय एंबुलेंस जाम में फंसी रही, उससे कम समय में नवजात को रामपुर अस्पताल पहुंचाया जा सकता था। जान नहीं लगता तो नवजात की जान भी बच सकती थी।

आनी-निगान के बीच जाम में दर्जनों निजी वाहन घंटो तक फंसे रहे। इसके चलते सरकारी बसों के अलावा 108 और 102 एंबुलेंस भी इसमें फंसी रहीं। ऐसा पहली बार नहीं है कि यहां इतना बड़ा जाम लगा हो। इससे पहले भी यहां कई बार जाम की समस्या से लोगों को परेशानियां झेलनी पड़ी।

सुबह के समय जन्मा था बच्चा

108 एंबुलेंस के ईएमटी अनिल ने बताया कि आनी के बराड़ में किराये के मकान में रहने वाली महिला का शुक्रवार सुबह करीब सात बजे मकान में प्रसव हुआ था। बच्चा कम वजन का था। इसके चलते उसे तुरंत आनी अस्पताल लाया गया। लेकिन हालत नाजुक देख नवजात को डॉक्टरों ने आनी से रामपुर अस्पताल रैफर कर दिया था।

आनी से करीब चार किलोमीटर दूर दोघरी मोड़ में लगे जाम में 108 एंबुलेंस सुबह साढ़े दस बजे से करीब ढाई घंटे तक जाम में फंसी रही और जाम के चलते नवजात की मौत हो गई। नवजात को वापस आनी अस्पताल लाया गया। यहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

डीएसपी आनी सुरेश चौहान ने कहा कि बराड़ से निगान के बीच लग रहे जाम से निपटने के लिए दो जवानों की तैनाती की जाएगी। एनएच प्राधिकरण के एक्सईएन पासंग नेगी ने कहा कि वे ज्यादा पासिंग प्वाइंट बनाने का प्रयास करेंगे।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS