ईमानदारी की ऐसी मिसाल, आप भी करेंगे रमा को सलाम

0
320

ईमानदारी अभी जिंदा है। इसकी मिसाल पेश की है कि नाहन नप में कार्यरत रमा देवी ने। हुआ यूं कि रमा रोज की तरह बड़ा चौक में ड्यूटी करने के बाद नगर परिषद कार्यालय में हाजिरी लगाने जा रही थी। इस दौरान माल रोड पर सुबह 9 बजे के उसे 500-500 के नोटों का बंडल मिला।

रमा देवी ने नोटों के पूरे बंडल को उठाया और समीप ही गुन्नूघाट पुलिस चौकी में गई। जहां पुलिस वालों ने पांच गडियों को गिना तो ढाई लाख रुपये निकले। रमा देवी ने इससे पहले भी लावारिस पड़े एक मोबाइल को पुलिस चौकी में जमा करवाकर ईमानदारी की मिसाल पेश की थी।

rma-devi-5631ae2dd3ed5_exlst

जूता व्यापारी ने थैंक्स तक नहीं कहा

पुलिस अधीक्षक सौम्या साम्बशिवान तथा एएसपी विनोद कुमार धीमान को भी इसकी सूचना दी गई। उन्होंने रमा की ईमानदारी की तारीफ की। उधर एसएचओ तिलक राज शांडिल ने रमा देवी को थाने में बुलाकर रुपयों की जानकारी भी ली। उन्होंने बताया कि यह रुपये जूता व्यापारी के थे।

उन्हें ढाई लाख रुपये दे दिए गए हैं। रमा देवी ने जहां लावारिस ढाई लाख रुपये पुलिस को सौंपकर मिसाल पेश की। वहीं जूता व्यापारी ने पुलिस से अपनी ढाई लाख की रकम ली और चुपके से घर चले गए। उनके इस रवैये से हर कोई हैरान है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS