हिमाचल में बारिश का कहर, कुल्लू-लाहौल में बादल फटे

0
397

बंजार/केलांग/शिमला – मूसलाधार बारिश ने हिमाचल में भारी तबाही मचाई है। कुल्लू के बंजार और लाहौल स्पीति के चोखंग में बादल फटने से अफरातफरी का माहौल बना हुआ है। मंडी, सिरमौर, कांगड़ा और चंबा के कई क्षेत्रों में बाढ़ जैसे हालात हैं। नालों का पानी रिहायशी क्षेत्रों में घुसने से लाखों का नुकसान हुआ है। तस्वीर मंडी जिले की है। यहां के कटौला क्षेत्र में बागी खड्ड का जलस्तर बढ़ने से बाजार में मलबा घुस गया। जेसीबी मशीन से मलबे को हटाते पीडब्‍ल्यूडी के कर्मचारी।

बंजार की तीर्थन घाटी के श्रीकोट, कलवारी पंचायत के शपनील और शजाहू गांव में वीरवार रात 11 बजे बादल फटने से गांव के साथ लगते नाले में बाढ़ आ गई। इसमें 13 फुट ब्रिज बह गए। बाढ़ की चपेट में एक निजी फिश फार्म भी आ गया। मलबा घुसने से मछलियां दबकर मर गई हैं। आधा दर्जन मकानों को भूस्खलन से खतरा पैदा हो गया है। कुल्‍लू जिले के सैंज के रैला में बादल फटने से टूटा पुल।

cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes

बादल फटने से नकदी फसलों को भारी नुकसान हुआ है। कई बीघा जमीन धंस गई है। फसल से लहलहाते खेत तबाह हो गए हैं। बंजार में शुक्रवार को ओलावृष्टि से भी फसलों को भारी नुकसान हुआ है। एसडीएम बंजार अश्वनी कुमार ने बताया नुकसान का आकलन किया जा रहा है। कुल्‍लू जिले के सैंज के रैला में बादल फटने के बाद संपर्क मार्ग पर आया मलबा।

cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-2

लाहौल घाटी के दुर्गम क्षेत्र चौखंग में बादल फटने से थिरोट नाले में आई बाढ़ से कई बीघा भूमि और मटर, गोभी और आलू खेत बाढ़ की भेंट चढ़ गए हैं। यहां लाखों की नगदी फसलें लहलहा रही थीं।

cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-damage-lahaul

चौखंग से दूरभाष पर किसान रवि ने बताया कि वीरवार रात करीब 9 बजे बादल फटने के कारण बाढ़ में करीब 20 बीघा खेत बह गए हैं। नायब तहसीलदार मोहनलाल यंगथंगी ने बताया कि पटवारी के एक दल को चौखंग के लिए रवाना किया है। चौखंग और छोगजिंग गांव के किसानों के खेतों को भारी नुकसान पहुंचा है।

cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-damage4

ऊना में भारी बारिश से शहर के अधिकतर क्षेत्रों में तीन से चार फीट तक पानी भर गया है। घरों, सरकारी कार्यालयों, स्कूलों, दुकानों आदि में पानी भर गया है। यहां तक की कर्मचारियों को दफ्तर छोड़कर ऊपरी मंजिलों में जाना पड़ा। प्रशासन पानी निकालने में जुटा हुआ है।
cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-damage-6

बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है। प्रदेश की सभी नदियां-नाले उफान पर हैं। सरकार ने 15 जुलाई तक अलर्ट जारी किया है। सूबे के लगभग 100 से ज्यादा संपर्क मार्गों पर यातायात ठप हैं। हालांकि, प्रदेश में जानी नुकसान की कोई सूचना नहीं है। कुल्‍लू जिले के सैंज के रैला गावं में बादल फटने के बाद आया मलबा।
cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-damage-8

कुल्‍लू जिले के सैंज के रैला गावं में बादल फटने से सड़कों पर पानी भरने से पैदल जाते लोग।
cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-damage8

सिरमौर जिले के स्तौन में भारी बारिश के चलते पानी में डूबी कार।
cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-damage-9

सोलन जिले के संस्कृत कॉलेज के नजदीक गिरा डंगा।
cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-damage-88
ऊना जिले के मैहतपुर में लोगों के घर में घुसा बारिश का पानी।

cloudburst-and-heavy-rainfall-in-himachal-causes-extensive-damage67
ऊना में औद्योगिक कार्यालय में पानी में तैरतीं कुर्सियां।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS