नवरात्रौं के लिए सज गया मां चामुंड़ा का दरबार

0
358
chamunda mandir

chamunda mandir

“श्राद ख़त्म होते ही नवरात्रों की तैयारी में जुटा मंदिर प्रशासन ताकि यहां आने वाले श्रधालुओं को किसी प्रकार की कोई असुविधा न हो इसके लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए है, हर तरफ पुलिस के जवान तैनात है और चामुंडा मंदिर दुल्हन की तरह सजाया गया है, जिसके साथ ही मंदिर में श्रधालु पहुंचना भी शुरू हो गए है”

हिमाचल प्रदेश देव भूमि, जिला काँगड़ा के मुख्यालय धर्मशाला से मात्र 20 किलोमीटर और पालमपुर से 25 की दुरी पर है माँ चामुंडा नंदिकेस्वर धाम, यूँ तो यहाँ हर वक्त श्रधालुओं का सैलाब यहाँ लगा रहता है लेकिन नवरात्रों में देश विदेश से श्रद्धालु इस धाम के दर्शनों के लिए यहाँ पधारते हैं यहाँ पर माँ चामुंडा व् भगवान भोले शंकर के दर्शन एक साथ होते हैं, श्रद्धालु पहले माँ चामुंडा देवी के दर्शन करते हैं और तत पश्चात् बहुत बड़े पत्थर के निचे गुफा में विराजमान भोले शंकर के दर्शनों के बाद अपनी यात्रा पुरी करते हैं वहीँ देश भर से आए श्रद्धालु अपनी मनोकामना यहीं पुरी करते हैं।

मंदिर के पुजारी के अनुसार इस मन्दिर का निर्माण सातवीं शताव्दी में काँगड़ा के राजा ने करवाया था, ज़ब चंड और मुंड राक्षस का वध करना था तो देवी का आह्वान किया गया क्योंकि इन दोनों राक्षसो को वरदान प्राप्त था तब माँ ने इनका संहार करने के लिए काली का रूप धारण करके चंड मुंड का वध किया था और इसी घटना के आधार पर माँ का नाम चामुंडा देवी पड़ा था ।

चामुंडा मंदिर में भी इन नवरात्रों में आठ दिन लगातार हवन किया जाएगा और छोटी- छोटी कन्याओं का पूजन किया जाएगा चामुंडा मंदिर में शत चंडी का जाप किया जाता है और ख़ास कर महा रूद्र अभिशेख किया जाता है और अनुष्ठान का आयोजन किया जाता है इसमें साठ पंडित भाग लेते हैं और अनुष्ठान को पूर्ण करते हैं।
इस अनुष्ठान में बाहर से आने वाले श्रधालु भी आहूति डाल सकते हैं और इस हवन की ख़ास बात है की जो भी यहाँ पर मन्नत मांगता है वो जल्द ही पूरी हो जाती है, यहाँ पर अष्टमी के दिन माँ को एक सौ आठ प्रकार के भोग लगाए जाते हैं ।

इस मंदिर में अश्टमी के दिन पूरी रात माँ का गुणगान व पूजा अर्चना की जाती है , अगर सुरक्षा की बात की जाए तो मंदिर प्रशासन ने यहाँ पर एंटी- शोशल एलिमेंट लगा रखे हैं जिससे की गुंडा तत्व और शरारती तत्वों पर भी ख़ास कर नजर रखी जा सके। मंदिर के चारों तरफ सी सी टी वी कैमरे लगा रखे हैं जो की हर आने जाने वाले पर नजर रखेंगे ताकि किसी प्रकार की कोई भी अनहोनी न हो सके। हिमाचल के काँगड़ा जिला में तीन बड़े मंदिर हैं जिन को सुरक्षा के नजरिये से चारों तरफ से चाक चैंकस कर दिया गया है ।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS