यौन शोषण के आरोपों में घिरे आसाराम बापू को जोधपुर पुलिस ने थमाया समन

0
423
Asaram-Bapu

Asaram-Bapu

“जोधपुर पुलिस ने नाबालिग लड़की के यौन शोषण के आरोपों से घिरे प्रवचनकर्ता आसाराम को मंगलवार को उनके आश्रम में नोटिस तामील कराया, नोटिस में आसाराम को मामले में अपना बयान दर्ज कराने के लिए 30 अगस्त तक जोधपुर पुलिस के सामने हाजिर रहने को कहा गया है”

सूत्रों के मुताबिक उप निरीक्षक भंवरसिंह की अगुवाई में जोधपुर पुलिस का दो सदस्यीय दल आज सुबह आठ बजे के आसपास आसाराम के खंडवा रोड स्थित आश्रम में पहुंचा, ताकि उन्हें सीधे नोटिस तामील कराया जा सके।

सूत्रों ने बताया कि आश्रम के लोगों ने आज सुबह जोधपुर पुलिस के दल से कहा कि आसाराम इस वक्त ‘ध्यानमग्न’ हैं और इस वक्त वे किसी से नहीं मिल सकते। सूत्रों के मुताबिक दो सदस्यीय पुलिस दल को आसाराम को नोटिस तामील कराने के लिए उनके आश्रम के भीतर करीब छह घंटे इंतजार करना पड़ा।

नोटिस तामील कराने के बाद उप निरीक्षक भंवरसिंह ने बताया, यह नोटिस आसाराम ने खुद स्वीकार किया। इस नोटिस में कहा गया है कि उनके खिलाफ लगाए गए आरोपों के अनुसंधान के संबंध में वे 30 अगस्त तक जोधपुर पुलिस के सामने उपस्थित रहें।

समन के साथ-साथ आसाराम को हिदायत भी दी गई है कि मामले की जांच पूरी होने तक वह देश छोड़कर बाहर नहीं जाएंगे। जोधपुर पुलिस की ओर से देश के सभी हवाई अड्डों को लुक-आउट नोटिस भी जारी किया जा रहा है, जिसमें साफ तौर बताया जाएगा कि जांच पूरी होने तक आसाराम के भारत से बाहर जाने पर रोक लगाई गई है।

आसाराम ने कल 26 अगस्त की रात अपने आश्रम में प्रवचन के दौरान इस आशंका का इजहार किया कि अगर उन्हें यौन शोषण के मामले में जबरन जेल या पुलिस हिरासत में भेजा जाता है, तो कथित साजिश के तहत उनके भोजन में ऐसा पदार्थ मिलाया जा सकता है जिसके सेवन से उनके मानसिक स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है।

उन्होंने कहा, मैं कोई धमकी नहीं दे रहा हूं, लेकिन मुझे (यौन शोषण मामले में) जबरन पुलिस हिरासत में या जेल के भीतर भेजा जाता, तो मैं वहां अन्न त्याग देता। अगर मुझे अपने साथ गंगा जल ले जाने की अनुमति नहीं मिलती, तो मैं वहां पानी पीना भी छोड़ देता। मुझे अपने साथ गंगा जल ले जाने की अनुमति नहीं मिलती, तो मैं वहां पानी पीना भी छोड़ देता।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS