प्रवासी मज़दूरों के बच्चों के लिए 16 जून से 18 जून तक चलाया जाएगा विशेष पोलियो अभियान

0
328
Polio_932788f

Polio_932788f

“स्वास्थ्य विभाग सभी जिलों के उच्च जोखिम क्षेत्रों में 16 जून से 18 जून तक ( प्रवासी मज़दूरों के बच्चों के लिए विशेष पोलियो अभियान ) का आयोजन किया जा रहा है, इसके अंतर्गत भठ्ठियों , जलविद्युत परियोजनाओं आदि में काम करने वाले प्रवासी मजदूरों के सभी बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी”

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि लाहौल.स्पीति के अलावा प्रदेश के सभी जिलों के उच्च जोखिम क्षेत्रों में 16 जून से 18 जून तक (ष्प्रवासी मज़दूरों के बच्चों के लिए विशेष पोलियो अभियान) का आयोजन किया जा रहा है। इसके अंतर्गत भठ्ठियोंए जलविद्युत परियोजनाओं आदि में काम करने वाले प्रवासी मजदूरों के सभी बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के बिलासपुर जिले के मारकण्ड व घुमारवीं खण्ड, चम्बा के पुलकारी, भरमौर , तीसा, चुरी व समोट खण्ड, हमीरपुर के टौणी देवी, नादौन व बड़सर खण्ड ,कांगड़ा जिला के गंगथ , इंदौरा , फतेहपुर, शाहपुर , धर्मशाला ( शहरी ) व पालमपुर खण्ड , किन्नौर के निचार व कल्पा खण्ड, कुल्लू के नग्गर, जरी व निरमण्ड खण्ड ,मण्डी जिला के रती , मण्डी ( शहरी ) व रोहाण्डा, शिमला जिला के शिमला (शहरी), मशोबरा, चैपाल व ननखड़ी खण्ड, सिरमौर के पांवटा व धगेड़ा खण्ड , सोलन जिला के धर्मपुर , नालागढ़़ , चण्डी, अर्की व सोलन (शहरी) तथा ऊना जिला के हरोली, गगरेट व अम्ब खण्डों को उच्च जोखिम क्षेत्र के रूप में पहचान की गयी है।

उन्होंने प्रदेशवासियों से आग्रह किया कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य दलों का सहयोग करें ताकि प्रदेश को पूर्ण रूप से पोलियो मुक्त बनाया जा सके।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS