श्रद्धालुओं व पर्यटकों को सुविधा देने के लिए चूड़धार में किया जायेगा हेलिपेड का निर्माण: मुख्यमंत्री

0
889
Choordhar-chopal-helipad

Choordhar-chopal-helipad

“प्रदेश के प्रसिद्ध महत्वपूर्ण धार्मिक व पर्यटक स्थल चूड़धार में यहां आने वाले श्रद्धालुओं व पर्यटकों को सुविधाएं उपलब्ध करवाने के उद्वेश्य से कालाबाग में एक हेलिपेड का निर्माण किया जाएगा वहीं शिरगुल देवता मंदिर निर्माण के लिए 10 लाख रुपये का अनुदान राशि भी प्रदान की जाएगी”

गेयटी थियेटर में चूड़ेश्वर सेवा समिति ए चूड़धार के 12 वें वार्षिक समागम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री वीरभद्र सिहं ने कहा कि प्रदेश के सिरमौर जिला का प्रसिद्ध चूड़धार मंदिर प्रदेश में धार्मिक पर्यटक स्थल के रुप में जाना जाता है और यहां आने वाले श्रद्धालुओं व पर्यटकों को सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए सिरमौर जिला के कालाबाग में एक हेलिपेड का निर्माण किया जाएगा। यह हेलिपेड इसी वित्त वर्ष में निर्मित किया जाएगा और इसके साथ ही शिरगुल देवता मंदिर के निर्माण के लिए 10 लाख रुपये का अनुदान प्रदान किया जाएगा जिससे मंदिर के निर्माण के कार्य को जल्द पुरा किया जा सके।

Shirgul-Devta-temple-chopal

उन्होंने कहा कि शिरगुल देवता मंदिर के निर्माण कार्य में तेजी लाकर इसे इस वर्ष के अंत तक पूरा किया जाएगा। जिससे यहां आने वाले श्रद्धालुओं व पर्यटकों को उचित सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा सेकें।

वहीं इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने पर्यटन तथा वन विभाग को सिरमौर जिला के सराहन से कालाबाग तक रज्जू मार्ग स्थापित करने की व्यावहारिक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नौराधार से चूड़धार तक सड़क का निमार्ण कार्य शीघ्र पुनः आरम्भ कर दिया जाएगा।

वीरभद्र सिंह ने सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग और हिमाचल प्रदेश विद्युत बोर्ड को तरांह खड्ड से चूड़धार के लिए उठाऊ जल आपूर्ति योजना के कार्य को शीघ्र पूरा करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने जिला प्रशासन को कुपवी से चूड़धार और सराहन बिजिट महाराज मंदिर से चूड़धार तक के पैदल मार्ग को सुधारने के निर्देश दिए। उन्होंने वन विभाग को मंडाह घाटी से खड़ाच तक मोटर योग्य सड़क के निर्माण के लिए प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने चूड़धार मंदिर के रास्ते के सुधार की आवश्यकता पर भी बल दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश अपने स्वच्छ पर्यावरण व प्राकृतिक सौंदर्य के लिये विश्व भर में प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। राज्य सरकार पर्यावरण संरक्षण व पर्यटन को प्रोत्साहित करने और प्रदेश में धार्मिक पर्यटन को प्रोत्साहित करने पर विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने चूड़ेश्वर सेवा समिति द्वारा चूड़धार में श्रद्धालुओं के लिए विभिन्न सुविधाएं सृजित करने के प्रयासों की सराहना की। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर चूड़ेश्वर सेवा समिति के सदस्यों को सम्मानित भी किया।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS