Connect with us

अन्य खबरे

शिमला के ऐतिहासिक राज्य पुस्तकालय की जगह बुक कैफे खाेलने के प्रस्ताव का विरोध

state library shimla

शिमला– शिमला नगर निगम हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के ऐतिहासिक रिज मैदान पर स्थित ऐतिहासिक राज्य पुस्तकालय को तोड़ कर वंहा कैफ़े बनाने का प्रस्ताव लेकर आया है। इस प्रस्ताव के अनुसार नगर निगम स्मार्ट सिटी मिशन के तहत इस भवन का जीर्णोद्वार करने जा रहा है। इस प्रोजेक्ट पर 2.25 करोड़ रुपये खर्च होने है जीर्णोद्वार के बाद इस भवन में पहले की तरह पुस्तकालय चलेगा। इसके टॉप फ्लोर पर पुस्तकालय होगा जबकि ग्राउंड फ्लोर में कैफे होगा।

इस प्रस्ताव पर छात्रों और कई लोगों ने रोष जताया है और आरोप लगाया है कि नगर निगम जीर्णोद्धार के नाम पर इसे कैफ़े में तब्दील करना चाहता है और पुस्तकालय को बंद करना चाहता है। इसके विराेध में मंगलवार काे रिज मैदान पर कई छात्रों ने इकट्ठा होकर इसका जमकर विराेध किया। इसके दौरान छात्र मेयर से मिलने भी गए। पर मेयर ऑफिस में नहीं मिली। छात्राें ने आराेप लगाया कि जीर्णाेद्धार के नाम पर नगर निगम छात्राें काे गुमराह कर रहा है। उन्हाेंने कहा कि छात्रों का हक छीना जा रहा है। उन्हाेंने कहा कि नगर निगम इस पुस्तकालय  में बुक कैफे खाेलना चाहता है।

धरने के दाैरान छात्र अजय राणा, सुनील ठाकुर, महेंद्र शर्मा, विवेक ने कहा कि शहर में काेई ऐसी जगह नहीं है, जहां पर छात्र सुकून से पढ़ाई कर सके। यह पुस्तकालय ही एक ऐसी जगह थी, जहां पर वह अपने एग्जाम की तैयारियाें के लिए आते थे। मगर अब इसे कैफे बनाने की तैयारी की जा रही है। उन्हाेंने कहा कि नगर निगम का यह निर्णय पूरी तरह से गलत है और इसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

शिमला में विधानसभा के पास बनी लाइब्रेरी में भी जगह नही होती, उसके बाद वह यहां आते हैं। पर राज्य पुस्तकालय में भी जगह नही मिलती है। ऐसी सूरत में राज्य पुस्तकालय को कैफेटेरिया बनाना गलत है जिसे छात्र हरगिज बर्दास्त नही करेंगे।

वहीं वरिष्ठ नागरिक संजय कुमार वर्मा और वीरेंद्र वशिष्ठ ने कहा कि उन्हाेंने भी अपनी स्टूडेंट लाइफ इसी लाइब्रेरी में गुजारी है। अभी भी वह यहां पर आते रहते हैं। उन्हाेंने कहा कि लाइब्रेरी एक ऐतिहासिक जगह है और रिज काे चर्च और लाइब्रेरी से ही जाना जाता है। ऐसे में इसे बंद करना गलत निर्णय है।

सीपीआईएम (CPIM ) ने यह कहा

सीपीआईएम लोकल कमेटी ने कहा है कि शिमला सरकार व नगर निगम राज्य पुस्तकालय को रिपेयर के नाम पर लाइब्रेरी को बंद ना करे। अगर लाइब्रेरी को रिपेयर करना ही चाहते है तो उससे पहले सरकार व नगर निगम छात्रों के साथ लिखित में समझौता करे की पुस्तकालय को बंद नही किया जाएगा और इसका संचालन जो अभी शिक्षा विभाग कर रहा है भविष्य में भी शिक्षा विभाग ही करे ना की नगर निगम और अगर मरमत का कार्य करना है तो उसकी भी तय सीमा निर्धारित की जाए क्योंकि ये छात्रों के भविष्य का प्रश्न है। सरकार को तुरंत इस फैसले को वापिस लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे भी पुस्तकालय का अभाव है 30 हजार रजिस्टर छात्र है जो की बहुत बड़ी संख्या है इसलिए सरकार व नगर निगम को और पुस्तकालय भी खोलने चाहिए।

एसएफआई ने भी किया विराेध

शिमला में स्थित राज्य पुस्तकालय को कैफे में तब्दील करने के फैसले का एसएफआई ने भी कड़ा विराेध किया है। एसएफआई के राज्याध्यक्ष रमन थारटा और राज्य सचिव अमित ठाकुर ने कहा है कि मौजूदा सरकार का शिक्षा और उससे जुड़े संस्थानों से कोई सरोकार नही है। प्रदेश सरकार जहां एक ओर शिखर की ओर हिमाचल का नारा देकर राष्ट्रीय स्तर पर फर्जी आंकड़े पेश कर शिक्षा क्षेत्र में वाहवाही लूटने लगी है, वहीं दूसरी तरफ इस तरह के फैसले लेकर प्रदेश की शैक्षणिक छवि को धूमिल करने का कार्य कर रही है। यह प्रदेश की धरोहर ऐतिहासिक राज्य पुस्तकालय को आज एक ढाबे में तब्दील करने वाली सरकार की मंशा से साफ जाहिर होता है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में पहले ही पुस्तकालयों की संख्या कम है बजाए नए पुस्तकालय खोलने के सरकार पुराने पुस्तकालय को भी बंद कर जीर्णोद्धार के नाम से अपनी शिक्षा विरोधी नीतियों को आगे बढ़ाने का कार्य कर रही है। उन्हाेंने मांग उठाई कि सरकार अपने इस फैसले पर पुनर्विचार कर इस प्रस्ताव को शीघ्र वापिस लें, अन्यथा एसएफआई काे मजबूरन आंदाेलन करना पड़ेगा।

 

अन्य खबरे

मनाली के गो सदन में भूख और ठंड से 30 गायों की मौत, गो सदनों की भूमिका पर सवाल: एसएफडी

stray cattle in himachal pradesh

शिमला- आज सोमवार को स्टूडेंट फ़ॉर डेवलपमेंट (SFD) ने गोवंश व बेसहारा पशुओं की मार्मिक स्तिथि पर चिंता व्यक्त करते हुए प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि आज पूरे प्रदेश में गायें बेसहारा और आवारा सड़कों पर घूमती हुई आम दिखाई देती हैं, जो कि सड़कों पर ही रहने के लिए मजबूर है तथा उचित आहार न मिलने के कारण प्लास्टिक इत्यादि खाती हैं जिससे इन्हें गंभीर बीमारियां हो रही हैं।

एसएफडी के प्रांत प्रमुख डॉ नितिन व्यास ने बताया की आजकल हिमाचल प्रदेश में ठंड का प्रकोप है कुछ स्थानों पर तो तामपान शून्य डिग्री से भी कम है तथा इन गायें के लिए उचित गौ सदन न होने के कारण यह सड़कों पर ही इस ठंड में दम तोड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग इन्हें बेसहारा सड़कों पर छोड़ देते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा करने वाले लोगो के ऊपर उचित कार्यवाही होनी चाहिए और कानून को सख्ती से लागू करना चाहिए।

एसएफडी ने कहा की उनका मानना है कि सरकार इन सभी बेसहारा गोवंश को गो सदनों में भेजे और इनकी उचित देखरेख को सुनिष्चित करे।

डॉ व्यास ने यह भी कहा कि अभी हाल ही में जिस तरह मनाली में 30 गोवंश ने दम तोड़ा वो कहीं न कहीं गो सदनों की भूमिका पर भी सवाल खड़ा करता है। इन गायों ने मनाली के गौ सदन में भूख और ठंड के कारण दम तोड़ा जो कि एक जांच का विषय है प्रदेश सरकार को इसकी जांच कर दोषियों के विरुद्ध उचित कार्यवाही करनी चाहिए।

एसएफडी ने प्रदेश सरकार से मांग करते हुए कहा कि प्रशासन सभी बेसहारा गायों को गो सदनों में ले कर जाए जिससे ठंड के कारण इनकी आकस्मिक मौत न हो।

उन्होंने कहा प्रदेश सरकार को ऐसे लोगों पर भी सख्त कानूनी कार्यवाही करनी चाहिए जो गायों/पशुओं को सड़कों पर बेसहारा छोड़ते है।

प्रांत प्रमुख ने कहा कि अगर सरकार आने वाले समय में गौ वंश की सुरक्षा के लिए कोई उचित कदम नहीं उठाती है तो एसएफडी प्रदेश में जागरूकता अभियान आरम्भ करेगी। साथ ही साथ 18 जनवरी 2022 को बेसहारा गौ वंश की रक्षा के लिए एसएफडी द्वारा  प्रदेश भर में जिला उपायुक्त के माद्यम से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को ज्ञापन दिया जाएगा।

Continue Reading

अन्य खबरे

अब केवल होटल बुक करवाने वाले पर्यटक ही जा सकेंगे लाहौल, पुलिस बैरियर पर दिखानी होगी बुकिंग

himachal tourism lahaul

लाहौल-स्पीति पुलिस ने आपातकालीन स्थिति और सड़क की स्थिति जानने व अधिक जानकारी के लिए यह संपर्क नंबर जारी किए हैं।

जिला आपदा नियंत्रण कक्ष: 9459461355, कंट्रोल रूम:8988092298

शिमला- लाहौल प्रशासन और पुलिस ने उन सैलानियों को घाटी में प्रवेश की अनुमति दी है जिन्होंने लाहौल के होटलों और होम स्टे में बुकिंग करवा रखी है। पर्यटकों को सोलंगनाला में पुलिस बैरियर पर लाहौल में बुक होटलों और होमस्टे की बुकिंग को दिखाना आवश्यक होगा, इसके बाद ही उन्हें घाटी में प्रवेश कर सकेंगे ।

लाहौल और पांगी की ओर जाने वाले स्थानीय निवासियों के लिए फोर बाई फोर वाहनों में चलने की अनुमति दी है। तो वहीं सैलानियों को अभी अटल टनल रोहतांग और लाहौल की वादियों में घूमने की इजाजत नहीं है।

पिछले हफ्ते कुल्लू और लाहौल घाटी में हुई रिकॉर्ड बर्फबारी के बाद धीरे-धीरे जनजीवनअब सामान्य होने लगा है। लेकिन कुल्लू-मनाली आने वाले सैलानी एक सप्ताह बाद भी न तो अटल टनल रोहतांग जा पा रहे हैं और न ही लाहौल के सिस्सू और कोकसर का रुख कर पा रहे हैं।

बीआरओ द्वारा मनाली से आगे सोलंगनाला से सिस्सू तक मार्ग से बर्फ हटा दी है, लेकिन वन-वे होने से सैलानियों की आवाजाही अभी रुकी हुई है। प्रशासन के इस निर्णय से घाटी के पर्यटन और व्यवसाय को भी लाभ मिलेगा।

Continue Reading

अन्य खबरे

हिमाचल में 17 से 20 जनवरी तक बारिश और बर्फबारी के आसार

hp-met-predicts-snow-and-rain-in-himachal-from-17-to-20-january

शिमला- मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार प्रदेश में सोमवार से फिर मौसम बिगड़ने जा रहा है। प्रदेश के मध्यम और ऊंचाई वाले क्षेत्रों में 17 से 20 जनवरी तक बारिश और बर्फबारी के आसार हैं।

हालांकि,मैदानी इलाकों में मौसम शुष्क रहेगा। खराब मौसम को देखते हुए प्रशासन ने लाहौल,किन्नौर और चंबा के बर्फीले इलाकों के लोगों को एहतियात बरतने की हिदायत दी गई है।आज को रविवार को प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में सुबह के समय धूप खिली रही।

वहीं कुल्लू के उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने कहा कि अगले तीन दिनों तक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी की आशंका है। 17 जनवरी को जलोड़ी दर्रा के खनाग से सोझा तथा मनाली-लेह मार्ग में हिमखंड गिरने की चेतावनी भी जारी की गई है। ऐसे में सैलानियों के साथ जिलावासी मौसम को देखकर ही आवाजाही करें।

Continue Reading

Featured

kuldeep rathor as president of himachal pradesh congress kuldeep rathor as president of himachal pradesh congress
राजनीति7 hours ago

प्रदेश को कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर मिला एक झुझारू नेता: जितेंद्र चौधरी

शिमला- आज सोमवार को हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर का अध्यक्ष पद पर तीन वर्ष का कार्यकाल...

nhm-daily-covid-19-report-for-january-17-2022 nhm-daily-covid-19-report-for-january-17-2022
स्वास्थ्य8 hours ago

हिमचाल में बढ़ा कोरोना का प्रकोप, 24 घंटे में 2446 नए मामले दर्ज, 6 लोगों की मौत

शिमला- प्रदेश में कोरोना के नए मामलों में हर दिन तेजी से वृद्धि हो रही है। आज सोमवार को एनएचएम...

ABVP HPU demand opening library ABVP HPU demand opening library
कैम्पस वॉच10 hours ago

50% क्षमता के साथ जल्द पुस्तकालय खोले विश्वविद्यालय प्रशासन:एबीवीपी

शिमला- आज सोमवार को हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद इकाई ने छात्रों की मांगो को लेकर पुस्तकालय प्रभारी...

nalagarh peer mela nalagarh peer mela
सोलन10 hours ago

कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ा कर मेला लग सकता है लेकिन रक्तदान शिविर नहीं: उमंग फाउंडेशन

आजकल भी आईजीएमसी ब्लड बैंक में रक्त की भारी कमी है। लेकिन सोलन जिला प्रशासन हजारों लोगों की संख्या वाले...

hp bjp incharge karan nanda hp bjp incharge karan nanda
राजनीति10 hours ago

कोविड वैक्सीनेशन का एक वर्ष पूरा, लगभग 66 करोड़ लोग पूरी तरह से वैक्सीनेटेड: भाजपा

शिमला- भारत में कोविड वैक्सीनेशन का एक वर्ष पूरा होने पर हिमाचल प्रदेश भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी राकेश शर्मा एवं...

stray cattle in himachal pradesh stray cattle in himachal pradesh
अन्य खबरे13 hours ago

मनाली के गो सदन में भूख और ठंड से 30 गायों की मौत, गो सदनों की भूमिका पर सवाल: एसएफडी

शिमला- आज सोमवार को स्टूडेंट फ़ॉर डेवलपमेंट (SFD) ने गोवंश व बेसहारा पशुओं की मार्मिक स्तिथि पर चिंता व्यक्त करते...

himachal tourism lahaul himachal tourism lahaul
अन्य खबरे13 hours ago

अब केवल होटल बुक करवाने वाले पर्यटक ही जा सकेंगे लाहौल, पुलिस बैरियर पर दिखानी होगी बुकिंग

लाहौल-स्पीति पुलिस ने आपातकालीन स्थिति और सड़क की स्थिति जानने व अधिक जानकारी के लिए यह संपर्क नंबर जारी किए...

chamba and mandi road accident chamba and mandi road accident
चम्बा1 day ago

हिमाचल में दो अलग जगहों में सड़क हादसे में 5 लोगो की मौत, चम्बा और मंडी में हुआ हादसा

शिमला- आज रविवार को हिमाचल में दो अलग जगहों में सड़क हादसों में कुल पाँच  लोगों की मौत हो गयी...

hp-met-predicts-snow-and-rain-in-himachal-from-17-to-20-january hp-met-predicts-snow-and-rain-in-himachal-from-17-to-20-january
अन्य खबरे1 day ago

हिमाचल में 17 से 20 जनवरी तक बारिश और बर्फबारी के आसार

शिमला- मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार प्रदेश में सोमवार से फिर मौसम बिगड़ने जा रहा है। प्रदेश के मध्यम...

himachal Ration depot himachal Ration depot
अन्य खबरे2 days ago

अब राशन डिपुओं में जमा करवा सकेंगे पानी और बिजली के बिल, फरवरी में शुरू होगी यह सुविधा

हिमाचल में पांच हजार के करीब राशन डिपो हैं। शिमला- हिमाचल प्रदेश के खाद्य नागरिक एवं उपभोक्ता मंत्री राजेंद्र गर्ग...

Trending