बिलासपुर की घटना में बिना किसी जाॅच पडताल किए मुख्यमंत्री ने सुना दिया फैसला:बिन्दल

0
193
dr-rajeev-bindal-himachal-bjp

सोलन- हिमाचल प्रदेश में चिकित्सकों द्वारा किए जा रहे विरोध के प्रती अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए हिमाचल प्रदेश के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डा0 राजीव बिन्दल ने कहा कि यह बहुत ही दुःखदायी प्रकरण है कि चिकित्सकों को चिकित्सा सेवा बन्द करनी पड़ी है।

बिन्दल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश का जनमानस सरकारी चिकित्सालों पर निर्भर है, प्रदेश के 90 प्रतिशत लोक प्राईमरी हैल्थ सैन्टरों व अन्य सरकारी अस्पतालों से इलाज करवाते है। ऐसे में डाकटरों के द्वारा किया जा रहा प्रोटैस्ट प्रत्योक व्यक्ति को बुरी तरह प्रभावित करता है।

भाजपा नेता बिन्दल ने यह भी कहा कि चिकित्सक लगातार एक के बाद एक हो रही घटनाओं को लेकर अपना दुःख सरकार के पास रखते आए है परन्तु प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने सही तरीके से डाक्टरों के पक्ष को तवज्जों नहीं दी। यहाॅ तक की बिलासपुर की घटना में बिना किसी जाॅच पडताल किए ही मुख्यमंत्री द्वारा फैसला सुना दिया गया ।

सुनिये बिलासपुर के विधयाक आरोपन बम्बर ठाकुर डॉक्टर को धमकाते हुए

बिन्दल ने कहा कि डाक्टरों को कार्य करने के लिए एक स्वस्थ वातावरण की जरूरत होती है और ऐसा वातावरण देना सरकार का दायित्व है और इस दायित्व को निभाने में प्रदेश की कांग्रेस सरकार पूरी तरह विफल हुई है ।

डा0 बिन्दल ने कहा कि यदि माहौल जल्दी अनुकूल नहीं हुआ तो डाक्टरों का मनोबल टूटेगा और हिमाचल से डाक्टरों का पलायन बढ़ेगा, जिससे हमारी चिकित्सा व्यवस्था क-प्रभावित होगी।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS