नाहन में एक माह के भीतर 150 लावारिस कुतों का किया जाएगा बांध्यीकरण उपायुक्त

0
393
Image:www.cnn.com

नाहन- नाहन में 150 लावारिस कुतों को एक माह के भीतर नगर पालिका परिषद नाहन द्वारा पकड कर पशुपालन विभाग द्वारा पोली क्लीनिक नाहन में बांध्यीकरण किया जाएगा । 28 सितम्बर को विश्व रैबीज दिवस के उपलक्ष्य पर नगर पालिका परिषद नाहन द्वारा शहर के विभिन्न हिस्सों से लावारिस कुतों को पकड़कर पशुपालन विभाग द्वारा पोली क्लीनिक नाहन मंे बांध्यीकरण तथा तीन दिन तक वेक्सीनेशन तथा उपयुक्त उपचार किया जाएगा।

इसके पश्चात इन कुतों को जिस स्थान से पकड़कर लाया जाएगा, उन्हें उपचार के उपरान्त उसी स्थान पर वापिस छोड़ दिया जाएगा। इस दौरान तीन दिनों तक इन आवारा कुतों के लिए भोजन की व्यवस्था भी विभाग द्वारा वहन की जाएगी।

यह जानकारी अध्यक्ष जिला पश क्रुरता निवारण समिति एवं उपायुक्त सिरमौर बीसी बडालिया ने आज उपायुक्त कार्यालय के सभागार में आयोजित विश्व रैबीज दिवस आयोजन बारे बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।

उन्होंने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को गौ सदन के लिए दान की अपील बारे प्रचार सामग्री छपवाने के निर्देश दिए ताकि गौ सदन की आर्थिकी को सुदृढ़ किया जा सके। उन्होंने मॉ बालासुन्दरी गौसदन की शेडों में बिजली की फिटिगं व खराब स्ट्रीट लाईट को दुरूस्त करने, प्रशिक्षण हॉल के नीचे सुरक्षा दीवार तथा शेड के आसपास की जगह को पक्का करवाने के निर्देश भी दिए। इस अवसर पर समिति द्वारा गौशाला के सुपरवाईजर का मानदेय एक हजार रूपये प्रतिमाह बढ़ाने तथा चौकीदार का मानदेय 6500 प्रतिमाह करने बारे आम सहमति बनी।

इससे पहले सहायक निर्देशक पशु पालन विभाग एवं सचिव पशु क्रुरता निवारण समिति डा0 नीरू शबनम ने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों तथा समिति के सदस्यों का अभिवादन किया तथा बैठक से संबंधित सभी मदांे को क्रमवार प्रस्तुत किया । उन्होंने बताया कि मॉ बालासुन्दरी गौ सदन पर गत वर्ष 12 लाख रूपये की राशि व्यय की गई।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS