पशुओं की तस्करी पर लगाम लगाए सरकार

0
470
stray cattles,shimla

stray cattles,shimla

प्रदेश सीमाओं को सील किया जाए – चेकिंग की जाए
​​
प्रदेशभर में बीच सड़क में बैठे आवारा पशुओं को सुरक्षित करने के लिए माननीय उच्च न्यायालय के फैसले पर परिबद्धत्ता दिखाए प्रदेश की सरकार ! यह बात विकास समिति टुटू ने प्रैस को जारी एक ब्यान में कही ! विकास समिति अध्यक्ष नागेन्द्र गुप्ता ,महासचिव ठाकुर सिंह वर्मा व् अन्य पदाधिकारियों राजेश बाटला ,राजेश गोयल ,ओम प्रकाश शर्मा ,नरेश कुमार शर्मा ने कहा की आवारा पशुओं को सुरक्षित स्थान पर रखना सरकार का दायित्व बनता है जिसके लिए विभिन्न संस्थाए भी कार्य कर रही है ! प्रकृति एवं प्राणी संस्थान टुटू के मुख्यसलाहकार व् विकास समिति अध्यक्ष गुप्ता ने कहा की प्रदेश सरकार को चाहिए की गौ रक्षा के लिए जितना अधिक सम्भव हो प्रदेश भर में जगह -जगह गौशालाओं का निर्माण करना चाहिए और गऊओं को सुरक्षित करना चाहिए जिसके लिए गौरक्षकों से भी सहयोग लिया जा सकता है !

उन्होंने कहा की गौ सरंक्षण से जुड़े संगठन के कुछ सदस्यों ने उनके ध्यान में लाया है की सड़कों को खाली करने के न्यायालय आदेशों के बाद कुछ पशु माफिया सड़क से गाड़ियों की गाड़ियां भरकर प्रदेश से बाहर आवारा पशुओं को ले जाकर उनका अवैध कटान कर रहे हैं और प्रदेश सरकार मूक दर्शक बनी हुयी है ! उन्होंने कहा की गौ रक्षा के लिए प्रदेश सरकार को गंभीर होना चाहिए और ऐसे पशु तस्करों को तुरंत प्रदेश की सीमाओं पर नाका लगाकर पकड़ना चाहिए ! गुप्ता ने गौ शालाओं के लिए निर्माण के लिए गौ संरक्षण संस्थाओं को विशेषरूप सहायता राशि जारी करने और पर्याप्त सरकारी भूमि उपलब्ध करवाने की मांग की है ! उन्होंने ग्रामीणवासियों से भी अपने पशुओं को आवारा न छोड़ने की अपील भी की है !

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS