हिमाचल में बेहतर परिवहन सेवाओं के लिए केंद्र से की केंद्रीय सहायता की मांग

0
172
Demanding-HRTC-bus-service-Mandi

Demanding-HRTC-bus-service-Mandi

“राज्य के पिछड़े, जनजातीय तथा दुर्गम क्षेत्रों में बस सेवाओं के विस्तार के लिए 105 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता की मांग की गई है ताकि 700 नई बसें खीरदकर नए रूटों पर परिवहन सुविधाएं शुरू की जा सके जिससे राज्य के बेरोजगार युवकों को रोजगार भी प्रदान करवाया जा सके”

हिमाचल पथ परिवहन निगम के उपाध्यक्ष केवल सिंह पठानिया ने नई दिल्ली में केन्द्रीय परिवहन मंत्री सी. पी. जोशी से मुलाकात की और राज्य में परिवहन निगम के आधुनिकीकरण तथा विस्तार के लिए एक विस्तृत पाॅयलट परियोजना सौंपी। उन्होंने राज्य के पिछड़े ए जनजातीय तथा दुर्गम क्षेत्रों में बस सेवाओं के विस्तार के लिए 105 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता की मांग की ताकि 700 नई बसें खीरदकर नए रूटों पर परिवहन सुविधाएं शुरू की जा सकेे।

उन्होंने राज्य सरकार को 30 सीट क्षमता की 500 मिनी बसें खरीदने के लिए 15 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता की मांग करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने इन बसों को 60 प्रतिशत लागत पर राज्य के बेरोजगार युवकों को प्रदान करने की योजना बनाई है ताकि ग्रामीण क्षेत्रों को परिवहन सुविधाएं प्रदान की जा सकें तथा स्थानीय युवकों को रोजगार के वैकल्पिक अवसर उपलब्ध हो सकें।

परिवहन उपाध्यक्ष ने राज्य के सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में आधुनिक मशीनरी एवं उपकरण से सुसज्जित मैकेनिकल वर्कशाप खोले के लिए 136 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता की मांग भी की। उन्होंने 17 सीट सीट क्षमता के 500 नए टैक्स वाहन खरीदने के लिए 11 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता का अनुरोध किया तथा 500 नई महिन्द्रा पिकअप वैन खरीदने के लिए 8 करोड़ रुपये की केन्द्रीय सहायता की मांग की।

केन्द्रयी मंत्री सी.पी. जोशी ने कहा कि परिवहन मंत्रालय शीघ्र ही राज्य तथा केन्द्रीय अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक करके राज्य में परिवहन विकास की सभी परयिोजनाओं को समयबद्ध रूप से कार्यान्वित करने के लिए विस्तृत चर्चा करेगा।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS