पाकिस्तान ने न बदला रवैया तो होगी जवाबी कार्यवाही:सेना अध्यक्ष व्रिकम सिंह

0
391
Pakistan-India-flag meeting

Pakistan-India-flag meeting

“फ्लैग मीटिंग में बार्डर पर बढ़ते तनाव को रोकने का कोई भी समाधान पाकिस्तान की ओर से नहीं दिया गया पाकिस्तान के इस रुख पर भारतीय सेना अध्यक्ष ने साफ कहा कि अगर पाकिस्तान सेना की तरफ से कोई भी उकसाने वाली कार्यवाही होती है तो भारतीय सैनिकों भी उसका करारा जवाब देगें”

बीते 7 जनवरी को पाकिस्तान सेना के सैनिको द्वारा एलओसी पार कर भारतीय सीमा में घुस कर दो भारतीय जवानों सर काट कर निर्मम हत्या कर दी, और उसके बाद भी पाकिस्तानी सैनिको की और से भारतीय सेना पर गोलाबारी की गई थी ।

सभी शांति वार्ताओं को विफल करने वाली पाकिस्तानी सैनिकांे की इस तरह की कार्यवाही ने कहीं न कहीं पाक के मनसुबों को साफ जाहिर कर दिया है।

बॉर्डर पर बढ़ते तनाव की समस्याओं को देखते हुए और पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा भारतीय सैनिकों की निर्मम हत्या करने जैसी घटना का जवाब पाकिस्तान से मांगने के लिए भारत ने पाक के सामने फ्ैलग मीटिंग का प्रस्ताव रखा था जिसे पाक ने स्वीकार किया था।

ब्रिगेडियर लेवल की इस फ्ैलग मीटिंग के होने से पहले भारतीय थल सेनाध्यक्ष विक्रम सिंह ने कहा कि पाकिस्तानी सैनिकों की करतुत माफी लायक नहीं है। पाकिस्तान की ये करतुत उकसाने वाली है जो हमला भारतीय सैनिकों पर किया गया है वो पाकिस्तान की चाल है । पाकिस्तान की ओर से की गई फायरिंग बहुत ही चालाकी से और प्लान कर के की गई हैै और पाकिस्तान किसी भी तरह की घटना के लिए पूरी तैयारी कर चूका है।

आर्मी चीफ ने कहा कि उन्होनें नॅार्दन कमांड को निर्देश दिए है कि जब पाकिस्तान की और से उकसाने वाली कार्यवाही हो तो उसका तुरंत जवाब दिया जाए , उन्होनें कहा की इंडियन आर्मी सीजफायर का सम्मान करती है जब तक अगला पक्ष भी इसका सम्मान करता हो और अगर हमें उकसाया गया तो हम इसका करारा जवाब देगें। अगर पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा भारतीय सैनिकों को उकसाया गया तो मैं अपने कंमाडरों से उम्मीद करता हुं कि वो भी करारा जवाब देंगे ।

वहीं दूसरी और भारतीय सैनिक शहिद हेमराज का सिर वापिस लाने के सबंध में उन्होनें सरकारी स्तर पर बात को आगे पंहुचा दी है।

“विफल रही भारत और पाकिस्तान की फ्लैग मीटिंग”

दूसरी और भारत पाकिस्तान की आज दोपहर बाद हुई फ्लैग मीटिंग में कोई भी समाधान सामने नहीं आया। भारत ने पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा भारतीय सैनिकों के सिर काटने की कार्यवाही पर विरोध र्दज कराया और साथ ही भारत और पाक के बीच सीमा पर बढ़ते तनाव के बारे में चर्चा की और इस तनाव को खत्म करने के उपायों पर भी बात की गई है। भारत और पाकिस्तान के बीच हुई इस फ्लैग मीटिंग में का रिजल्ट जीरो रहा और पाकिस्तान सेना ने शहीद हुए भारतीय सैनिक का सिर ले जाने से इंकार भी इंकार किया है। पाक के इस रुख पर सेना अध्यक्ष ने साफ-साफ शब्दों में कहा है कि अगर पाकिस्तान ने अपना रवैया नहीं बदला तो भारत उसे सही समय पर और सही जगह पर अपना जवाब देने से पीछे नहीं हटेगा ।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS