बीजेपी के नेता कैलाश विजयवर्गीय का बयान मर्यादा न लांघे महिलांए

0
397
BJP-minister-kailash-virginia-women

BJP-minister-kailash-virginia-women

”महिलांए अपनी सिमांए लाघेंगी तो उन्हे इसका खामियाजा भी भुगतना होगा ,अगर कोई महिला अपनी सीमा लांघेंगी तो उसे दंड़ जरुर मिलेगा”

मध्यप्रदेश के एक वरिष्ठ बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय के महिलाओं के प्रति बयान दिया है कि औरतें अपनी सीमाएं लाघंती है जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ता है। मध्य प्रदेश की कैबिनेट में एक वरिष्ठ पद पर आसीन वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय ने रामायण का उदाहरण देते हुए कहा कि मर्यादा का उल्लंघन होता है तो सीता हरण हो जाता है, उन्होंने महिलाओं को मर्यादा में रहने की सलाह देते हुए कहा है कि अगर कोई महिला अपनी सीमांए लाघती है तो उसे दड़ मिलना सही है जैसा सीता को मिला था जब रावण उसे उठा कर ले गया था जहां एक ओर पुरा देश दिल्ली रेप की घटना का विरोध कर रहें है वहीं दुसरी और नेताओं के द्वारा महिलाओं के चरित्र पर टिप्पणी करना आम हो गया है ।

नेता जी ने रामायण में सीता के मर्यादा लाघंने पर रावण द्वारा उसके हरण पर तो टिप्पणी दें डाली, पर शायद वो रामायण के दुसरे पक्ष पर अपना ध्यान केद्रिंत नहीं कर पाए है, जिसमें सीता के दामन को छुने वाले रावण का अंत क्या रहा और उसके लिए उसे क्या दड़ दिया गया सोचने और समझने का विषय यह है। पारलेमेंट में बैठे ये लोग जो महिलाओं के प्रति इस तरह की नकारात्मक सोच रखते है तो महिला सुरक्षा पर किसी मजबुत कानून का बनना तो मुश्किल ही लगता है , जनता के खुद के चुने हुए प्रतिनिधि इस तरह की सोच महिलावर्ग के लिए रखते है तो महिला सूरक्षा पर सवाल उठना लाजमि है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS