कांग्रेस सरकार कर रही चहेतों और रिश्तेदारों की बैक डोर ऐन्ट्री से भर्तियां:सत्ती

0
116
satpal-singh-satti-himachal-bjp

शिमला- हिमाचल प्रदेश भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर आरोप लगते हुए कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार बैक डोर ऐन्ट्री (Back Door Entry)के माध्यम से चहते और रिश्तेदारों की भर्तियां करके प्रदेश के होनहार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। वर्तमान प्रदेश सरकार के कार्यकाल में नियमो और कायदों को ताक में रखकर चिटों पर भर्तियों का दौर पुनः आरंभ हो गया है, जिसका खामियाजा प्रदेश सरकार आने वाले चुनावों में भुगतेगी।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र सरकार ने 31 दिसम्बर, 2015 से देशभर में क्लास थ्री व क्लास फोर में साक्षात्कार की प्रक्रिया को पूरी तरह से खत्म कर दिया है और उन्होनें सभी प्रदेश सरकारों से आग्रह किया था कि वह अपने यहां भी इन श्रेणियों से साक्षात्कार को खत्म करें। उनके इस आग्रह पर लगभग सभी राज्यों ने इन श्रेणियों में साक्षात्कार को खत्म कर दिया है, परन्तु हिमाचल प्रदेश सरकार ने अभी तक क्लास थ्री व क्लास फोर में साक्षात्कार खत्म नहीं किए हैं। अगर प्रदेश सरकार की नीयत स्पष्ट होती तो वह इस सम्बन्ध में निर्णय ले चुकी होती।

भाजपा ने यह भी कहा कि रोजगार देने के आंकड़ो में भी प्रदेश सरकार जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रही है। रोजगार कार्यालय में दर्ज आंकड़ों के हिसाब से पिछले दो वर्षों में अभी तक 1150 लोगों को रोजगार दिया गया है। जबकि प्रदेश सरकार 45000 लोगों को रोजगार देने का दावा कर रही है। उन्होनें प्रदेश सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि अगर प्रदेश सरकार में थोड़ा सा भी दम है तो वह पिछले चार वर्षों में प्रदेश के सभी सरकारी व अर्द्धसरकारी क्षेत्रों में हुई भर्तियों के सभी आंकड़ों को जिलावार जनता के समक्ष रखने के लिए श्वेत पत्र जारी करें।

भाजपा ने कहा कि चुनावी वायदों को पूरा करने में असफल रही कांग्रेस अब झूठी घोषणाओं का सहारा लेने की कोशिश कर रही है। नई घोषणा करने से पूर्व प्रदेश कांग्रेस सरकार को पूर्व में की गई घोषणाओं पर अमली जामा पहनाना चाहिए। प्रदेश सरकार अभी तक बेरोजगारी भत्ता देने में नाकाम रही है। इसी तरह कर्मचारियों को वर्ष 2006 से 4-9-14 के वित्तीय लाभों को देने के अपने वायदे को भी पूरा करने में मुख्यमंत्री नाकाम साबित हुए।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS