icdeol-shimla

शिमला- हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के अंतर्राष्ट्रीय दूरवर्ती शिक्षण एवं मुक्त अध्ययन संस्थान (इक्डोल) से विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन कोर्स शुरू करने की कवायद शुरू की जाएगी। इसको लेकर चरणबद्ध तरीके से कार्य किया जाएगा। इसके अलावा प्रदेश के दूरदराज के क्षेत्रों में रह रहे विद्यार्थियों को घर बैठे शिक्षा प्रदान किए जाने को लेकर भी योजना तैयार की जाएगी। इसके तहत वीडियो कॉन्फ्रैंसिंग के माध्यम से हिमाचल प्रदेश के जिला चम्बा, किन्नौर व लाहौल-स्पीति आदि क्षेत्रों में स्थित इलाकों में रह रहे विद्यार्थियों को शिक्षा उपलब्ध करवाई जाएगी। इस योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए आगामी दिनों में विस्तृत योजना तैयार होगी। इस व्यवस्था के होने से विद्यार्थियों को काफी सुविधा होगी।

छात्रों को ऑनलाइन सुविधाएं प्रदान करने की तैयारी तेज

आधुनिकता के इस दौर में अब इक्डोल को भी हाईटैक करने की दिशा में प्रयास तेज कर दिए गए हैं। इसके तहत छात्रों को ऑनलाइन सुविधाएं प्रदान करने की दिशा में कदम उठाए जा रहे हैं। इसके तहत विद्यार्थियों को स्टडी मैटीरियल शीघ्र ऑनलाइन उपलब्ध करवाया जाएगा। इसके अलावा प्रदेश में इक्डोल के 4 स्टडी सैंटर खोलने को लेकर भी कार्य अमल में लाया जा रहा है। इसके लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। सैंटर स्थापित होने के साथ ही ऑनलाइन विभिन्न प्रकार की सुविधाएं विद्यार्थियों को प्रदान की जाएंगी।

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एडीएन वाजपेयी ने कहा कि विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन कोर्स शुरू करने के लिए प्रयास किए जाएंगे। इसके लिए आगामी समय में विस्तृत योजना बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को स्टडी मैटीरियल भी शीघ्र ऑनलाइन उपलब्ध करवाया जाएगा। सभी कार्य चरणबद्ध तरीके से होंगे।

अगले सत्र से इक्डोल में मिलेगी ऑनलाइन एडमिशन

अंतर्राष्ट्रीय दूरवर्ती शिक्षण एवं मुक्त अध्ययन संस्थान (इक्डोल) में विद्यार्थियों को अगले सत्र से एडमिशन ऑनलाइन मिलेगी। इसको लेकर तैयारियां तेज कर ली गई हैं। जुलाई, 2017 के सत्र के दौरान विद्यार्थियों को विभिन्न कोर्सों में प्रवेश के लिए विश्वविद्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे और ऑनलाइन ही प्रवेश प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा सभी छात्रों का डाटाबेस भी तैयार किया जाएगा। इक्डोल के निदेशक प्रो पीके वैद्य ने कहा कि अगले सत्र से विद्यार्थियों को ऑनलाइन एडमिशन प्रदान की जाएगी। इसको लेकर कार्य को अंतिम रूप दिया जा रहा है। स्टडी मैटीरियल भी ऑनलाइन उपलब्ध करवाया जाएगा।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS