निर्वाचन व्यय पर नजर रखने के लिए दल गठित

0
245
mandi-election-2013

mandi-election-2013

“उड़न दस्ता एवं स्टैटिक निगरानी दल का कार्य चुनावी समय के दौरान रिश्वत एवं समाज विरोधी तत्वों की आवाजाही पर नजर रखना होगा और अगर उम्मीदवार समर्थक एवं कार्यकर्ता को ले जाने वाले वाहन में 50 हजार रुपये से अधिक की राशि, पोस्टर या निर्वाचन सामग्री अथवा 10 हजार रुपये से अधिक की राशि की सामग्री, पोस्टर या निर्वाचन सामग्री पाई जाती है तो उसे जब्त कर लिया जाएगा”

भारत निर्वाचन आयोग ने मण्डी संसदीय क्षेत्र उप चुनाव के दृष्टिगत निर्वाचन व्यय अनुवीक्षण प्रक्रिया को अधिक प्रभावी बनाने के लिए उड़न दस्ता एवं स्टैटिक निगरानी दल का गठन करने के सम्बन्ध में निर्देश जारी किए हैं, यह जानकारी राज्य मुख्य निर्वाचन अधिकारी नरेन्द्र चैहान ने दी।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में तीन या चार उड़न दस्ते होंगेए जो निर्वाचनों की घोषणा की तिथि से लेकर मतदान की समाप्ति तक कार्य करेंगे। अत्याधिक व्यय वाले संवेदनशील निर्वाचन क्षेत्रों में आवश्यकतानुसार दल तैनात किए जा सकते हैं।

इस दौरान उड़न दस्तों से कोई अन्य कार्य नहीं लिया जाएगा। संवदेनशील क्षेत्रों में उड़न दस्ते परिस्थिति के आधार पर राज्य सशस्त्र पुलिस बल के साथ केन्द्रीय पुलिस बल संयुक्त रूप से तैयार किया जा सकते है।

चैहान ने कहा कि यह दल रिश्वत एवं समाज विरोधी तत्वों की आवाजाही पर निगाह रखेगी। जांच के दौरान यदि कोई उम्मीदवार अथवा उसके समर्थक एवं कार्यकर्ता को ले जाने वाले वाहन में 50 हजार रुपये से अधिक की राशि, पोस्टर या निर्वाचन सामग्री अथवा 10 हजार रुपये से अधिक की राशि की सामग्री, पोस्टर या निर्वाचन सामग्री पाई जाती है , (जिसका प्रयोग संभवतः मतदाताओं को प्रलोभन करने के लिए किया जाता है ) तो उसे जब्त किया जाएगा। जांच एवं जब्ती के घटनाक्रम की वीडियोग्राफी भी की जाएगी।

उन्होंने कहा कि लोक सभा चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवार अधिकतम 40 लाख रुपये निर्वाचन व्यय कर सकते हैं।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS