राज्य सरकार ने बाबा रामदेव का जमीन सौदा किया रद

0
278
Ramdev in Himachal

Ramdev in Himachal

“कांग्रेस सरकार ने बाबा रामदेव के साधुपुल के जमीन की लीज डील रद कर दी है जिसके चलते बाबा रामदेव ने सरकार से साधुपुल की जमीन पर निवेश किए 10 करोड़ लौटाने की मांग की है जिसके बाद वो जमीन छोड़ देगें”
राज्य मंत्रिमड़ल ने बाबा रामदेव को पतंजलि योगपीठ केंद्र खोलने के लिए सोलन के साधुपुल में भाजपा सरकार के समय में दी गई 96 बीघा जमीन की लीज डील रद कर दी है । धूमल सरकार के समय में 17 लाख की कीमत पर ये जमीन बाबा रामदेव को दी गई थी।

इस डील के रद किए जाने के एवज में बाबा रामदेव ने सरकार से साधुपुल में जमीन पर निवेश किए गए 10 करोड़ लौटाने को कहा जिसके बाद बाबा रामदेव ने इस जमीन को छोड़ने का फैंसला किया है।
वहीं हिमाचल सरकार ने बाबा रामदेव के इस फैंसले का जवाब देते हुए कहा है कि अगर बाबा को साधुपुल की जमीन के बदले में मुआवजा चाहिए तो इसके लिए वो कोट का सहारा लें और वहां अपने हक के लिए लड़ाई लड़े।

कांग्रेस सरकार ने बाबा रामदेव को लीज पर दी गई 96 बीघा जमीन के सौदे में रही कमियों के आधार पर जमीन के इस सौदे को रद किया है।
मुख्य सचिव सुदृप्त राय ने मीडिया से बात चीत के दौरान बताया कि अब यह जमीन सरकार की है और इसे जल्द ही कब्जे में ले लिया जाएगा और इस सब के चलते बाबा इस जमीन पर किसी भी तरह का कोई कार्य नहीं कर सकते है और राज्य सरकार बाबा से 27 फरवरी को होने वाले कार्यक्रम को रद करने की भी अपील करेगी ।

मुख्य सचिव ने कहा है कि साधुपुल की ये जमीन महाराजा पटियाला ने इंदिरा चिल्ड्रन होम के लिए दी थी और इस जमीन पर वही बनेगा और जमीन के इस सारे मामले में लीगल एडवाइज के बाद ही कार्यवाही की गई है।

वहीं दूसरी और खबर ये है कि सरकार के द्वारा लीज रद करने के बावजूद भी बाबा रामदेव द्वारा 27 फरवरी को हिमाचल प्रदेश में इस योगपीठ का उद्घाटन किया जाएगा।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

NO COMMENTS