भाजपा के 2019 घोषणा पत्र से स्मार्ट सिटी, बुलेट ट्रेन गायब, न विदेशों से 80 लाख करोड़ कालाधन लाने का कोई वर्णन

0
65
Congress Statement on BJP Poll Manifesto 2019

शिमला-पिछले कल भारतीय जनता पार्टी द्वारा जारी किये गए चुनावी घोषणा पत्र पर कटाक्ष करते हुए कांग्रेस ने कहा कि मोदी सरकार ने देश के विश्वास में विष घोल दिया है और देश को आप पर भरोसा करना भारी पड़ा है। कांग्रेस ने भाजपा के स्वर्ण पात्र को झांसा पत्र करार दिया है और 2014 में की गयी घोषणाओं के बारे में जवाब मांगे हैं!

कांग्रेस ने कहा कि इस बात की पुष्टि स्वयं बीजेपी का 2014 का घोषणापत्र बनाने वाले मुरली मनोहर जोशी जी ने की है। उनसे जब पूछा कि मोदी सरकार के काम पर कितने नंबर देंगे, तो वे कहते हैं, “कॉपी में कुछ लिखा हो, तब तो नंबर दूँ।”

कांग्रेस ने कहा कि काम के नाम पर मोदी नाम के विद्यार्थी ने काॅपी कोरी छोड़ी है। जब कोई अपना काम नहीं करता है तो बहानेबाजी करता है। कांग्रेस ने कहा कि 5 साल बस यही हुआ है! भाजपा ने अपनी नाकामी का इल्जाम दूसरों पर मढ़ती रही और रोज नए बहाने बनाती गयी!

हर साल 2 रोज़गार का वादा, यानि 5 साल में 10 करोड़

कांग्रेस ने कहा कि उल्टा 4,70,00,000 नौकरियां चली गईं और बेरोजगारी की दर 45 साल में सबसे अधिक है और युवाओं को भविष्य अंधकार में है!

किसान को लागत + 50 % मुनाफा देने का

कांग्रेस ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में शपथपत्र दिया कि यह कभी नहीं हो सकता। कृषि की विकास दर गिरकर मात्र 2.9 प्रतिशत हो गई है, और किसान फसल की कीमत के लिए दर-दर की ठोंकरे खा रहा है। कांग्रेस ने कहा कि मोदी जी ने बस जुमलों की खेती की है। 2019 के संकल्प पत्र में एमएसपी का उल्लेख ही नहीं है। वादा किया है, 2022 तक किसानों की आय दोगुना करेंगे, पर उसके लिए इस कृषि विकास दर से 28 लग जाएंगे।

80 लाख करोड़ कला धन वापिस लाना

कांग्रेस ने कहा कि देश के हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रु. जमा कराने का वादा किया गया था। 15 लाख रुपया आना तो दूर, नोटबंदी ने देश की जनता की गाढ़ी कमाई लूट ली। कांग्रेस ने कहा कि दूसरी ओर ललित मोदी, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी, विजय माल्या जैसे भगोड़े देश के बैंकों का 1 लाख करोड़ लूटकर विदेश भाग गए।

देश को इकनोमिक पावर बनाना

कांग्रेस ने कहा कि वास्तविकता में देश को कर्ज में डुबो दिया। 2014 में देश पर कर्ज था, 54,90,763 करोड़। 2018 में देश पर कर्ज है, 82,03,253 करोड़। 5 साल में मोदी सरकार ने कर्ज लिया – 27,12,490 करोड़।
कांग्रेस ने कहा कि 5 साल में मोदी जी ने हर रोज 1486 करोड़ कर्ज लिया व हर महीने 45,208 रु. कर्ज लिया। कांग्रेस ने पुछा है कि यह है मोदीजी का कर्ज में डुबोने वाला अर्थशास्त्र।

दलित, आदिवासियों, पिछड़ों को सामाजिक न्याय दिलाना

कांग्रेस ने कहा कि उल्टा दलितों के आरक्षण पर हमला किया, एससी-एसटी सबप्लान खत्म कर दलितों व आदिवासियों को सरकार के संसाधनों में हिस्सेदारी से वंचित किया। ऊना, फरीदाबाद, सहारनपुर, हैदराबाद विश्वविद्यालय ष्रोहित वैमुलारु जैसी दलित अत्याचार की घटनाओं ने देश का दिल दहला दिया। हर 12 मिनट में एक दलित पर अत्याचार व हर 24 घंटे में एक दलित महिला से अनाचार । कांग्रेस ने आरोप लगाया कि सर्कार ने उल्टा आदिवासियों से वन-भूमि का अधिकार छीना है।

बेटी बचाना, बेटी पढ़ाना

कांग्रेस ने कहा कि वास्तविकता में यह ‘भाजपा से बेटी बचाओ’ बनकर रह गया। 2011 की जनगणना के अनुसार भारत में 15 साल से कम उम्र की 632 लाख बेटियां। हर बेटी के हिस्से आया ‘बेटी बचाओ स्कीम’ का मात्र 5 पैसा। यह है बेटियों से क्रूर मजाक। कांग्रेस ने कहा कि दूसरी ओर भाजपा ने बेटियों केदोषियों को दिया संरक्षण। कठुआ की दरिंदगी, उन्नाव बलात्कार कांड, नलिया सेक्स रैकेट, मुजफ्फरपुर व प्रतापगढ़ बालिका गृह कांड ने देश की आत्मा को शर्मसार कर दिया।

सस्ता पेट्रोल और डीजल

कांग्रेस ने कहा कि सत्ता में आने से पहले मोदी जी ने कहा – ‘बहुत हुई पेट्रोल डीज़ल की
मार’। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि जब सत्ता में आए तो पेट्रोल डीज़ल पर एक्साईज़ ड्यूटी बढ़ाकर जनता की जेब से 12 लाख करोड़ लूट लिया।

100 स्मार्ट सिटी बनाना

कांग्रेस ने कहा कि एक भी स्मार्ट सिटी नहीं बन पाई है। आरटीआई में खुलासा हुआ कि 5 साल में
स्मार्ट सिटी का मात्र 7 प्रतिशत बजट ही खर्च हो पाया। यही हाल ‘अमृत’, ‘हाउसिंग फाॅर आल , ‘हृदय’
जैसी योजनाओं का भी हुआ।

सेना की मजबूती

कांग्रेस ने कहा कि सेना के शौर्य का राजनैतिक इस्तेमाल तो खूब किया पर भारतीय सेना और
सैनिक मोदी सरकार की अनदेखी का शिकार बन गए। संसदीय समिति ने बताया कि रक्षा बजट 57 वर्षों में
सबसे कम है व 68 प्रतिशत सेना के हथियार पुराने हो चुके हैं। कांग्रेस ने कहा कि एक तरफ तो सेना की वर्दी और राशन के बजट में कटौती कर डाली, तो दूसरी तरफ ‘वन रैंक, वन पेंशन’ को ‘वन रैंक, 5 पेंशन’ बना डाला।

एक डॉलर = 40 रुपये करना

कांग्रेस ने कहा कि 2014 में मोदी जी भारतीय मुद्रा यानि रुपये की तुलना प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी की उम्र से कर मजाक उड़ाया करते थे। कहा कि भारत की मुद्रा को सबसे मजबूत कर दूंगा। कांग्रेस ने कहा कि पर पांच साल की मोदी सरकार में रुपया एशिया की सबसे कमजोर करेंसी बना है। अब 1 डाॅलर 70 रुपया के बराबर है!

गंगा नंदी की सफाई करना

कांग्रेस ने कहा कि पांच साल में नमामि गंगे का 80 प्रतिशत बजट खर्च ही नहीं हो पाया। बनारस में गंगा माँ और दूषित हो गईं। यहां तक कि सुप्रीम कोर्ट ने फटकार लगाई और कहा कि इस गति से गंगा मैया को साफ करने में 100 साल और लगेंगे।

कांग्रेस ने कहा कि 2019 के घोषणा पत्र से स्मार्ट सिटी गायब है, बुलेट ट्रेन गायब है और विदेशों से 80 लाख करोड़ कालाधन लाने का वर्णन ही नहीं है, मानो ये सारे काम पूरे हो चुके हैं।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें