पण्डित सुखराम और वीरभद्र सिंह का मिलन स्वार्थ की राजनीति की पराकाष्ठा : मुख्यमंत्री जयराम

0
81
Sukhram and Virbhadra

शिमला-प्रदेश मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दिल्ली में पत्रकारों के साथ अनोपचारिक बातचीत करते हुए कहा कि लोकसभा चुनावों की तैयारियों के दृष्टिगत भारतीय जनता पार्टी विपक्षी दल कांग्रेस से कोसों आगे हैं हैं।

पण्डित सुखराम और पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र के मिलन को स्वार्थ की राजनीति की पराकाष्ठा बताते हुए उन्होंने कहा कि दोनों राजनीतिज्ञ हमेशा राजनीति के विपरीत ध्रुवों पर खड़े रहे हैं और साथ रहकर भी कभी साथ खड़े नहीं रहे और अब भी नहीं होंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पं0 सुखराम ने हासिल करने की मंशा से जो कदम उठाये हैं उसे उन्होनें हासिल करने से ज्यादा उन्होनें खोया है और चुनावों के परिणाम उन्हें यह बता देंगे कि उनकी राजनीति का दौर बीत चुका है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुत्र मोह तो देखा था परन्तु वह पहली बार पौत्र मोह देख रहे हैं। पौत्र मोह में पंडित सुखराम ने पुत्र का भविष्य दाव पर लगा दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अनिल शर्मा के आग्रह पर उन्हें न केवल टिकट दिया गया बल्कि सम्मान सहित मंत्री भी बनाया। अब समय अनिल शर्मा की अग्नि परीक्षा का है, उन्हें तय करना है कि उन्हें भविष्य में करना क्या है।

मुख्यमंत्री श्री जयराम ठाकुर ने कहा कि भाजपा के सामने सुदृढ़ व विकसित राष्ट्र का सपना है जिसमें किसी दादा के पोते के लिए व्यक्तिगत सपनों को पूरा करने के लिए कोई स्थान नहीं है। अगर किसी व्यक्ति को यह गलतफहमी है कि भाजपा सरकार बनाने में किसी व्यक्ति विशेष की कोई भूमिका है तो यह गलतफहमी आने वाले लोकसभा चुनावों के परिणाम में दूर हो जाएगी।

प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के पश्चात से प्रदेश में विकास की गति को तेजी देने के साथ-2 और जनता को सरकारी योजनाओं का लाभ मिले इसके लिए वह स्वयं सभी 68 विधान सभा क्षेत्रों का दौरा कर चुके हैं।

प्रदेश मुख्यमंत्री का मानना है कि एक वर्ष के कार्यकाल में केन्द्र सेहिमाचल प्रदेश को अभूतपूर्व आर्थिक सहायता मिली है। प्रदेश को कृषि, बागवानी, पर्यटन सहित विभिन्न परियोजनाओं में 10,500 करोड़ रू0 की आर्थिक सहायता प्रदेश को केन्द्र सरकार से प्राप्त हुई है। ख्यमंत्री का कहना है कि इस दौरान एम्स, मैडिकल काॅलेज, राष्ट्रीय उच्च मार्ग, केन्द्रीय विश्वविद्यालय सहित कई अन्य परियोजनाओं का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है।

प्रदेश मुख्यमंत्री का कहना है कि ने कहा कि सरकार के प्रति एक सर्वेक्षण मे लोगों के बीच संतुष्टि में देश भर में हिमाचल का दूसरे स्थान पर आने के लिये वह सरकार की बड़ी उपलब्धि मानते है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें