Pandit Sukhram Joins Congress Again

शिमला-हिमाचल प्रदेश काग्रेस कमेटी के प्रवक्ता नरेन्द्र कंवर ने यहां जारी प्रेस बयान में पूर्व केंद्रीय मंत्री व वरिष्ठ नेता पंडित सुखराम और उनके पोते आश्रय शर्मा के कांग्रेस में वापसी पर खुशी जाहिर की और कहा कि सुखराम के हिमाचल में विकास में बहुत योगदान है! कंवर ने कहा कि 14 बार लगातार चुनाव जीत चुके सुखराम ने लगातार दो बार हिमाचल प्रदेश से भाजपा की सरकार बनाने में अहम योगदान दिया!

कंवर ने कहा कि यह बड़े दुखः की बात है कि अब जब भाजपा का पंडित सुखराम से मतलब निकल गया तो उनके भाजपा का प्राथमिक सदस्य मानने से भी मना कर दी।

गौरतलब है कि 93 वर्षीय सुखराम ने पिछले दिनों नई दिल्ली में काग्रेंस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी काग्रेंस प्रभारी रजनी पाटिल एवं कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष के समने कांग्रेस की सदस्यता लेकर कांग्रेस में अपने पोते आश्रय शर्मा को भी मिला दिया था।

कांग्रेस प्रवक्ता ने भाजपा पर आरोप लगाया कि अनिल शर्मा भाजपा में पावर मिनिस्टर है किन्तू उनके पास कोई पावर नहीं है इसलिए उनको भी जल्दी ही भाजपा को अलविदा कहकर अपनी मुख्य पार्टी काग्रेंस को मजबूत करने का काम करना चाहिए।

नरेन्द्र कंवर ने दावा किया कि वर्तमान में भाजपा के बहुत से नेता कांग्रेस में आने की गुहार लगा रहे हैं क्योंकि वो भाजपा में घुटन महसूस कर रहे हैं। कंवर ने यह भी दावा किया कि वरिष्ठ नेताओं की अगुवाई में प्रदेश की जनता भाजपा को पछाड़ कर चारों सीटें कांग्रेस पार्टी की झोली में डालेगी और केन्द्र में काग्रेस की सरकार बनेगी।

ज्ञात रहे कि टेलीकॉम घोटाले में नाम आने के बाद सुखराम को कांग्रेस पार्टी से निकाल दिया गया था! इसके बाद उन्होंने हिमाचल विकास कांग्रेस का गठन किया और उन्होंने चुनाव के बाद भाजपा से गठबंधन कर कर सरकार में शामिल हो गए थे! 2004 लोकसभा चुनाव से पहले उन्होंने फिर कांग्रेस का हाथ थाम लिया, लेकिन साल 2017 में फिर छोड़ दिया और भाजपा ज्वाइन कर ली!

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें