गरीब भी नहीं तोड़ पायी हिमाचल के इस छात्र का होंसला , प्रदेश के टॉप-10 मेधावी छात्रों की सूची में हुआ शामिल

0
394
hp board toppers

मंडी- कहते हैं कि मेहनत करने वालों की कभी हर नहीं होती,मेहनत करने वाले कठिन से कठिन काम भी आसानी से पूरा कर देते हैं और इसी कहावत को सच कर दिखाया है करसोग के 16 वर्षीय चेतन राजपूत ने। करसोग उपमंडल की ग्राम पंचायत सनारली के गांव कुट्टी के चेतन राजपूत ने मार्च, 2016 की दसवीं की वार्षिक परीक्षा में हिमाचल प्रदेश के टॉप-10 मेधावी छात्रों की सूची में अपना नाम दर्ज करवा कर अपने माता-पिता का नाम ही बल्कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के साथ-साथ पूरे उपमंडल के लोगों का भी सिर गर्व से ऊंचा किया है। अपनी गरीबी को ताकत बना कर मेहनत व समय के सदुपयोग व दिन-रात कड़ी मेहनत करके यह मुकाम हासिल किया है।

पिता किसान, माता मिड-डे मील कार्यकर्ता

चेतन राजपूत के पिता ज्ञान चन्द किसान तथा माता प्रभा देवी स्कूल में मिड-डे मील कार्यकर्ता हैं। उनका मानना है कि राज्य सरकार द्वारा प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को विभिन्न प्रकार की छात्रवृत्तियां प्रदान करना तथा मेधावी छात्रों को प्रोत्साहिन करने के लिए आरंभ की गई विभिन्न योजनाओं से प्रभावित होकर ही उनके बेटे ने यह मुकाम हासिल किया है। वर्तमान में चेतन राजपूत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला करसोग से शिक्षा ग्रहण कर रहा है। चेतन राजपूत का कहना है कि वह जमा दो की पढ़ाई के बाद इंजीनियरिंग करके भारतीय प्रशासनिक सेवा में जाना चाहता है।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें