Connect with us

राजनीति

प्रधानमंत्री मोदी ने सहारा से 9 महिनों में 40.1 करोड रूपये तथा बिड़ला ग्रुप से लिए करोड़ों रूपये: हिमाचल कांग्रेस

corruption-charges-against-modi-by-himachal-congress

शिमला- हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि भ्रष्टाचर के खिलाफ लड़ाई लड़ने की बात करने वाले प्रधानमंत्री मोदी आज खुद भ्रष्टाचार के गम्भीर आरोपों से घिर गये हैं और भाजपा का पर्दे के पिछे छुपा असली चेहरा जनता के सामने आ गया है कि भाजपा वास्तव में एक जुमलो की पार्टी है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव एवं चैयरमैन मीडिया विभाग नरेश चैहान ने कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले कल गुजराज के मेहसाणा में जनसभा को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री पर आयकर विभाग के दस्तावेजों का हवाला देते हुए आरोप लगाये हैं कि लिये है। यह एक बहुत ही गम्भीर मामला है कि बडी पार्टी के बडे नेता ने प्रधानमंत्री पर इस तरह के गम्भीर आरोप लगाये हैं।

अपनी मांग को रखते हुए कांग्रेस ने कहा कि वे मांग करते हैं कि प्रधानमंत्री को बिना समय गंवाये उन पर लगे इन आरोपो का तुरन्त जवाब दें यह मामला बहुत ही गम्भीर है और सीधा भ्रष्टाचार से जुडा है। कांग्रेस पार्टी और पूरे देश की जनता जानना चाहती है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ने के बड़े-बड़े दावे और न खाऊँगा और न खाने दूंगा की बात करने वाले प्रधानमंत्री क्या खुद ही भ्रष्टाचार के आंकठ में डूबे हैं, उन्हें देश के सामने अपनी स्थिती स्पष्ट करनी चाहिए।

प्रदेश की कांग्रेस पार्टी ने कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी झुठे आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति में विश्वास नही रखते है और न ही इस तरह की राजनीति करते हैं। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर जो भी आरोप लगाये हैं वे सभी आयकर विभाग के दस्तावेज के आधार पर लगाये गयें है जिनका पूरा ब्यौरा आयकर विभाग के पास है, इसलिए यह बहुत ही गम्भीर मामला बनता है, जिसका जवाब प्रधानमंत्री को तुरन्त देना चाहिए। कांग्रेस ने कहा कि झुठे आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति करना भाजपा का हमेशा से विशेषाधिकार रहा है।

कांग्रेस ने यह भी कहा कि लोकसभा सत्र के दौरान जब राहुल गांधी ने इन आरोपों के बारे में सदन मे बोलना चाहा तो सत्ता पक्ष ने उन्हें सदन में बोलने का मौका ही नही दिया, इससे ये बात और भी पुख्ता हो जाती है कि प्रधानमंत्री पर लगाये गये भ्रष्टाचार के आरोप बिलकुल सही है क्योंकि सत्ता पक्ष सदन की कार्यवाई कभी खलल नही डालता। जिस प्रकार से भाजपा के नेता बिना जानकारी के प्रधानमंत्री पर लगे गम्भीर भ्रष्टाचार के आरोपो की सफाई देने में लगे है वह गलत है।

कांग्रेस ने कहा कि नरेन्द्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री होने के नाते और नैतिकता के आधार पर उन आरोपो का जवाब देना चाहिए, क्योंकि उन पर लगे भ्रष्टाचार के गम्भीर आरोप तथ्यों के आधार लगाये गये हैं। जब-जब भाजपा के नेताओं पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं तो प्रधानमंत्री ने हमेशा इन आरोपो पर चुपी साधी है कम से कम अब प्रधानमंत्री को अपने उपर लगे भ्रष्टाचार के गम्भीर आरोपो जवाब देकर अपनी स्थिती देश के सामने स्पष्ट करनी चाहिए।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

Featured

हमीरपुर से भाजपा के पूर्व सासंद सुरेश चंदेल कांग्रेस में शामिल

Hamirpur MP Rajesh Chandel Joins Congress

शिमला-चुनावी दौर में शीर्ष पार्टियों के नेताओं में संत-गांठ जारी है। इसी कड़ी में अब भाजपा के पूर्व सासंद सुरेश चंदेल ने आज कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली। उन्होंने नई दिल्ली में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के कार्यालय में प्रदेश प्रभारी रजनी पाटिल व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर की उपस्थिति में पार्टी का सदयस्ता फार्म भरा। चंदेल भाजपा से हमीरपुर संसदीय क्षेत्र से तीन बार सांसद रह चुके हैं।

कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से शिष्टाचार भेंट की।राहुल गांधी ने उन्हें पार्टी में शामिल होने पर अपनी शुभकामनाएं दी।सुरेश चंदेल राज्य सभा मे कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा से भी मुलाकात की ।आनद शर्मा ने कांग्रेस पार्टी में शामिल होने पर उन्हें बधाई व शुभकामनाएं दी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने सुरेश चंदेल का स्वागत करते हुए कहा कि उनके लम्बे राजनेतिक अनुभव से प्रदेश में पार्टी को मजबूती मिलेगी।

कुछ दिन पहले पार्टी से निकले गए हरीश जनारथा को भी कांग्रेस ने दुबारा दाल में शामिल कर लिया था। इससे पहले सुखराम ने दोबारा कांग्रेस में वापसी की थी।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

Continue Reading

Featured

भाजपा अध्यक्ष सत्ती के प्रचार पर बैन नहीं लगा तो हर जगह किया जायेगा घेराव,दिखाए जाएंगे काले झंडे:सुखविंदर सुक्खू

Ban bjp president Satpal Satti's Election rallies

शिमला– कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी को लेकर आपत्तिजनक भाषा के इस्तेमाल को लेकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती घिर गए हैं। बद्दी में आपत्तिजनक भाषा के इस्तेमाल के लिए चुनाव आयोग से नोटिस मिलने के बाद भाजपा के राज्य अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती अब दुबारा राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणियां करने की वजह से चुनाव आयोग के निशाने पर आ गए हैं। आयोग ने सत्ती को एक और नोटिस ज़ारी कर 48 घंटों में जवाब माँगा है।

भाजपा के लिए चिंता की बात ये है कि इस बार यह मामला किसी की शिकायत पर सामने नहीं आया। बल्कि आयोग की सरवेलिएन्स (surveillance) टीम ने खुद ऊना जिले के गगरेट विधानसभा के भंजाल में सत्ती की एक सभा की वीडियो रिकॉर्डिंग की जिसके आधार पर उन्हें दूसरा नोटिस भेजा गया है। इस बार सत्ती पर प्रियंका के पहनावे व राहुल के शादी न करने को लेकर आपत्तिजनक बयानबाज़ी करने का आरोप है।

इसके अलावा सत्ती पर इस बयानबाज़ी को लेकर एक एफआईआर भी दर्ज़ हो चुकी है।

कांग्रेस ने वीरवार को उनके खिलाफ आंदोलन का एलान किया है! वीरवार को सुखविंदर सुक्खू की अध्यक्षता में कांग्रेस का एक प्रतिनिमण्डल मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार से मिला।

इन्होंने देवेश कुमार के माध्यम से मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को ज्ञापन भेजा। जिसमें सत्ती के प्रचार पर बैन लगाने और उन पर कड़ी धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज कराने की मांग की गई है। सुक्खू ने अल्टीमेटम दिया है कि अगर सत्ती के प्रचार पर बैन नहीं लगाया गया तो शुक्रवार से सत्ती का हर जगह घेराव किया जाएगा व काले झंडे दिखाए जाएंगे।

सुक्खू ने कहा कि मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा उनकी मांग पर तत्काल कार्रवाई करें। चूंकि, सत्तारूढ़ भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती सभी मर्यादाएं तोड़ते हुए चुनावी जनसभाओं में कांग्रेस के शीर्ष नेताओं व सामाजिक संस्थाओं के खिलाफ जहर उगल रहे हैं।

सुक्खू ने कहा कि ताजा उदाहरण भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती की सोलन जिले के बद्दी व ऊना जिले के भंजाल में हुई चुनावी जनसभा है। सूक्खू ने कहा है कि सतपाल सत्ती ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के विरुद्ध न केवल अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल किया, बल्कि सामाजिक संस्था राधा स्वामी के अनुयायियों पर भी आपत्तिजनक टिप्पणी की।

बद्दी के ही रामशहर में सतपाल सत्ती कि एक वीडियो में वे आरोपण ये कहते सुनाई दिए थे कि “राजनीति बहुत टफ है। बहुत पैसे लगते हैं, घर बिक जाते हैं। चुनाव के दिनों में वो लोग जो राधा स्वामी होते हैं, वे भी कहते हैं कि कुछ दे दो तो ही ठीक है।”

सुक्खू ने कहा कि भाजपा नेता ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पहनावे को लेकर भी बेहुदा टिप्पणियां कर रहे हैं। ये नाकाबिले बर्दास्त है। सुक्खू ने कहा कि इस तरह की बदजुबानी से कांग्रेस जनों के साथ ही आम जनमानस की भावनाएं भी आहत हुई हैं। इसलिए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती पर चुनाव आयोग कड़ी कार्रवाई करे। क्योंकि, उन्होंने आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया है।

सत्ती की सफाई

सत्ती का कहना है कि उनके वीडियो और बयां को तोड़ मरोड़ के मीडिया में पेश किया जा रहा है। उनका मानना है कि वो तो सिर्फ एक फेसबुक कमेंट पढ़ रहे थे जो किसी और ने राहुल गाँधी के ऊपर किया था। भाजपा भी राहुल गाँधी के चुनाव प्रचार पर रोक लगाने हेतु चुनाव आयोग को अपनी शिकायत दे चुके हैं।

निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार से मिलने वाले परदिनिधि मंडल में पूर्व सीपीएस रोहित ठाकुर, प्रदेश महासचिव हरभजन सिंह भज्जी, चेयरमैन मीडिया समन्वय समिति नरेश चौहान, प्रदेश उपाध्यक्ष महेंद्र चौहान, प्रदेश सचिव रितेश कपरेट, शिमला शहरी कांग्रेस अध्यक्ष अरुण शर्मा, कांग्रेस लीगल सेल के चेयरमैन आईएन मेहता, एससी सेल के वाईस चेयरमैन सुरेंद्र गर्ग, अमरजीत सिंह, अनूप रत्न व राजेन्द्र शर्मा शामिल थे।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

Continue Reading

Featured

हरीश जनारथा कांग्रेस में पुनः शामिल, हर्ष सैनी निलंबित

Harish Janartha

शिमला-लोक सभा चुनाव के आते ही हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने पार्टी से निष्कहीत हरीश जनारथा को आज दोबारा अपने दाल में शामिल कर लिया।

जनारथा शिमला विधानसभा क्षेत्र से विधानसभा चुनावों के दौरान पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ने पर निष्कासित किये गए थे। अब अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की मंजूरी पर हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने उनके निष्कासन को बहाल कर दिया है तथा उन्हें पार्टी में पुनः शिमला किया गया है

उन्होंने उम्मीद जताई कि हरीश जनारथा लोकसभा चुनावों में कड़ी मेहनत और लग्न के साथ पार्टी में अपनी सेवाएं देंगे ।

वंही राठौर ने हर्ष सैनी, ऊना के जिला कांग्रेस कमेटी के सचिव, को पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त पाये जाने पर कांग्रेस पार्टी की सदस्यता से निलंबित किया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने इस सन्र्दभ में हर्ष सैनी को अपना स्पष्टीकरण देने के लिए 7 दिन का समय दिया है। कांग्रेस ने कहा है कि अन्यथा कांग्रेस पार्टी की सदस्यता से निष्कासित किया जाएगा।

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें

Continue Reading

Trending