घुमारवीं पंचायत के लोग मटमैला पानी पीने को मजबूर, सरकार ने हैंडपंप लगाने में भी की गड़बड़ी

0
504
watercontamination

पानी को बिना फिल्ट्रेशन के दिया जाता है, जिसमें दूसरे दिन कीड़े पड़ जाते हैं

शिमला- हिमाचल प्रदेश में घुमारवीं उपमंडल की बकरोआ पंचायत के वार्ड नंबर-2 हरिजन बस्ती के लोग मटमैला पानी पीने को मजबूर हैं। गांव के स्थानीय लोगो व वार्ड मैंबर का कहना है कि इस वार्ड में वैसे तो सरकार 4 हैंडपंप लगाने का दावा करती है लेकिन हकीकत में 3 ही हैंडपंप लगे हैं। लोगों ने विभाग से पूछा है कि चौथा हैंडपंप कहां लगा है।

इस वार्ड में 83 परिवार रहते हैं। अगर पेयजल योजना की बात करें तो विभाग के अनुसार इस वार्ड में सारटी-फटोह स्कीम से पानी दिया जाता है लेकिन हकीकत में लोगों को पानी अमरपुर पेयजल योजना हड़सर से दिया जाता है। लोगों का यह भी आरोप है कि पानी को बिना फिल्ट्रेशन के दिया जाता है, जिसमें दूसरे दिन कीड़े पड़ जाते हैं।

लोगों ने विभाग व प्रशासन से मांग की है कि उन्हें पेयजल सप्लाई सही ढंग से की जाए और स्वीकृत हैंडपंप को भी लगाया जाए। इस बारे में आईपीएच विभाग के अधिशासी अभियंता घुमारवीं रवि सूद का कहना है कि हैंडपंप लगाने के कोई भी आदेश उन्हें नहीं मिले हैं। अगर लोगों को पेयजल की समस्या आ रही है तो शीघ्र ही समस्या को हल कर दिया जाएगा।

Photo: SlidePlayer/Representational Image

हिमाचल वॉचर हिंदी के एंड्रायड ऐप के लिए यहां क्लिक करें